सर्राफ अमन हत्याकांड : दोस्‍त ने ही रची थी लूट की साजिश, दो गिरफ्तार, जानें-कैसे बनाया प्‍लान

जागृति विहार के सेक्टर दो में लूट के बाद सर्राफ अमन जैन की हत्या का पुलिस ने बुधवार की देर रात पर्दाफाश कर दिया। जागृति बिहार एक्सटेंशन के पास मुठभेड़ के बाद बदमाश तरुण ठाकुर और अनुज शर्मा उर्फ बंटी को गिरफ्तार कर लिया। उनके कब्जे से लूटी हुई रकम और चांदी की ज्वेलरी भी बरामद की गई है, जबकि उनके तीन साथी मौके से भाग निकले। मौके से एक बाइक और तमंचा तथा पांच लाख की नकदी एवं चांदी की ज्वेलरी बरामद की गई।

एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि एसटीएफ के साथ मेडिकल और नौचंदी पुलिस देर रात जागृति एक्सटेंशन पर चेकिंग कर रही थी, तभी दो बाइकों पर सवार बदमाश आए। पुलिस के घेराबंदी करने पर बदमाशों ने फायर झोंक दिया। जवाबी फायरिंग में एक बदमाश को गोली लगी। दूसरे ने भागने की कोशिश की, लेकिन पकड़ा गया।

पूछताछ में तरुण ने अपने दोस्त अनुज के साथ मिलकर भागमल ज्वैलर्स के यहां लूट की साजिश रची थी। अनुज ने मुंडाली और भावनपुर निवासी अपने दो साथियों को तैयार किया। उसके बाद शोरूम की रेकी की गई। तरुण ने चेहरे पर हेलमेट लगा रखा था। अमन जैन जैसे ही घर के अंदर गया तो सभी ने शोरूम पर धावा बोल दिया। नकदी और चांदी लूटकर जा रहे बदमाशों को जब अमन जैन ने पकड़ा तो उस समय उसने तरुण को पहचान लिया। इसीलिए अमन की हत्या की गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here