सत्र 19-20 से ही सीएचओ की पढ़ाई

कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर (सीएचओ) का कोर्स बीएससी नर्सिंग फाइनल ईयर में इसी सत्र से लागू कर दिया गया है। इसके बाद फाइनल के छात्रों को छह महीने के इस कोर्स को अलग से करने की जरुरत नहीं होगी। पहले सीमित संस्थानों में उपलब्ध यह कोर्स इस सत्र से सरकारी एवं निजी कॉलेजों में पढ़ाया जाएगा। मई में विवि ने उक्त कोर्स को सत्र 2020-21 से लागू करने के निर्देश दिए थे, लेकिन अब इसे सत्र 19-20 से ही स्वीकार कर लिया गया है। यानी इस वर्ष बीएससी फाइनल ईयर के छात्रों को छह महीने का सीएचओ का कोर्स पढ़ना होगा।

बुधवार को विवि ने उक्त कोर्स के लिए संशोधित आदेश जारी कर दिए। प्रदेश के चुनिंदा संस्थानों में सीमित सीटें होने से पासआउट नर्सिंग के सभी छात्र इस कोर्स में प्रवेश नहीं ले पाते थे। यूपी में कम्युनिटी हेल्थ ऑफिसर के करीब 25 हजार पद हैं जबकि इसे पासआउट करने वाले चुनिंदा छात्र उपलब्ध हो रहे थे। सरकार को इस कोर्स को अलग से छह महीने कराने में अतिरिक्त खर्च करना भी पड़ रहा था लेकिन अब सीएचओ का यह कोर्स बेसिक बीएससी नर्सिंग और पोस्ट बेसिक बीएससी नर्सिंग के फाइनल ईयर के साथ ही जोड़ दिया गया है। इसी सत्र से फाइनल ईयर के छात्र इस कोर्स को पढ़ सकेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here