बिजनौर के 30 लोग करगिल से 150 किमी ऊपर फंसे, ठेकेदार छोड़कर भागा, राशन-पानी खत्म; ऑक्सीजन की कमी से सांस लेना भी मुश्किल

0
406

सभी मजदूर बिजनौर जिले के रावली गांव के रहने वाले हैं। मंगलवार को इन मजदूरों के परिजन ग्रामीणों के साथ सदर विधायक सुचि चौधरी से मिलने पहुंचे और मजदूरों को किसी तरह घर बुलवाने की मांग की।JPG

उत्तरप्रदेश के बिजनौर जिले के रहने वाले 30 मजदूर लेह लददाख होते हुए कारगिल से करीब 150 किलोमीटर ऊपर फंसे हैं। बताया जा रहा है कि डैम निर्माण के लिए ठेकेदार उन्हें अपने साथ लेकर गया था, लेकिन अब वह उन्हें छोड़कर भाग गया। मजदूरों ने किसी तरह फोन कर अपने परिजनों को इसकी सूचना दी। मजदूर जिस जगह पर फंसे हैं वहां ऑक्सीजन की भी कमी हो रही है साथ ही उनका राशन पानी भी खत्म हो गया है।

जानकारी के मुताबिक ये सभी मजदूर बिजनौर जिले के रावली गांव के रहने वाले हैं। मंगलवार को इन मजदूरों के परिजन ग्रामीणों के साथ सदर विधायक सुचि चौधरी से मिलने पहुंचे और मजदूरों को किसी तरह घर बुलवाने की मांग की। विधायक ने बिजनौर के डीएम को इस मामले की जानकारी दी और मजदूरों की सकुशल वापसी कराने का आश्वासन दिया।

परिजनों ने बताया कि जम्मू कश्मीर से लेह लददाख होते हुए कारगिल से करीब 150 किलोमीटर ऊपर पॉवर प्लांट पर काम चल रहा था। कुछ समय पहले ही ठेकेदार गांव से 30 मजदूरों को अपने साथ लेकर गया था। कुछ दिन तो सब ठीक रहा लेकिन अब ठेकेदार वहां से भाग गया है। मजदूरों ने अपने परिजनों को फोनकर बताया कि कई दिनों से वे बुरी हालत में वहां फंसे हैं। उनका राशन-पानी भी खत्म हो गया है। कई बुजुर्ग व महिला मजदूर भी उनके साथ शामिल हैं। ऑक्सीजन और खाने के अभाव में उनकी हालत बिगड़ रही है।

Leave a Reply