आज मेरठ विकास प्राधिकरण की 115वीं बोर्ड बैठक कमिश्नर अनीता मेश्राम की अध्यक्षता में कमिश्नरी सभागार में हुई। बैठक में हाल ही में नामित सदस्य डाॅ. चरण सिंह लिसाड़ी, वर्षा कौशिक व नैन सिंह तोमर को भी निमंत्रित किया गया।

बताया जा रहा है कि एमडीए की बोर्ड बैठक में बहस अथवा लंबा समय लेने वाले मुद्दों को नहीं रखा गया। कमिश्नर अनीता सी मेश्राम ने एमडी उपाध्यक्ष को कोरोना के चलते विशेष एहतियात बरतने के निर्देश दिए थे। इसके चलते पूर्व प्रस्तावित कई मुद्दों को बैठक से हटा दिया गया।

पिछले साल 6 दिसंबर को एमडीए की बोर्ड बैठक हुई थी। इसके बाद फरवरी में प्रस्तावित बैठक अगले महीने के लिए टाल दी गई थी। इस बीच, कोरोना संक्रमण के चलते लाॅकडाउन हो गया और बैठक अटक गई थी। एमडीए अफसरों के मुताबिक गंगानगर वेदव्यासपुरी व लोहिया नगर के किसानों का मामला फिलहाल प्रस्ताव में शामिल नहीं किया गया।

बैठक में डीएम अनिल ढींगरा, एमडीए वीसी राजेश कुमार पांडेय, नगरायुक्त अरविंद चैरसिया, एमडीए सचिव प्रवीणा अग्रवाल समेत अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

अनुरक्षण शुल्क मामले में आसपास के जनपदों से ब्याज दरों की तुलना के बाद इसे रखा जाएगा। सहायक लेखाकार अथवा लेखाकार रखे जाने, संपत्ति की ब्याज दर निर्धारण गंगानगर पाॅकेट सिटी में इंटेलिजेंस ब्यूरो को 4509 वर्ग मीटर भूमि के ब्याज निर्धारण, विभिन्न योजनाओं में आवंटित संपत्ति का अनुबंध कराकर कब्जा हस्तांतरण आदि प्रस्ताव आगामी बोर्ड बैठक में शामिल किए जाएंगे।

Leave a Reply