वेस्ट यूपी में क्राइम कंट्रोल के लिए पुलिस ने ऑपरेशन अपराधी शुरू किया है। इसके तहत जेल से जमानत और पैरोल पर छूटे अपराधियों को ट्रेस किया जा रहा है। सक्रिय अपराधी और गिरोह की पुलिस ने लिस्ट बनानी शुरू कर दी है।

कुछ अपराधियों को कोरोना के दौरान पैरोल पर छोड़ा गया था और अब इनके सत्यापन का काम शुरू किया गया है। बाजार भी खुल गए हैं और लोगों की आवाजाही हो रही है, इसलिए पुलिस क्राइम कंट्रोल के लिए प्लानिंग में लगी है।

लॉकडाउन खत्म होने के साथ अपराधी भी सक्रिय हो गए हैं। पुलिस अधिकारियों को इसे लेकर पहले से ही आशंका थी। इसलिए एडीजी मेरठ जोन राजीव सबरवाल ने कुछ दिन पहले जोन के सभी एसएसपी और एसपी की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में क्राइम ब्रांच, सर्विलांस टीम, एसओ और सीओ थे।

इस दौरान उन्होंने हर जिले के क्राइम और अपराधियों की जानकारी ली। साथ ही निर्देश दिया था कि अपराधियों का डोजियर बनाया जाए और उनके संपर्क में रहने वाले हर व्यक्ति का पूरा रिकार्ड रखा जाए।

अब पुलिस ने इसी लाइन पर काम करते हुए ‘ऑपरेशन अपराधी शुरू कर दिया है। लूट और छपटमारी के अलावा चोरी करने वालों पर फोकस किया जा रहा है। इस तरह के अपराधी अब अनलॉक में ज्यादा सक्रिय हैं। ऐसे में इनके फोटो और जानकारी सभी थानों को शेयर की जा रही हैं। इन अपराधियों की धरपकड़ के लिए बड़ा अभियान शुरू किया जा रहा है।

Leave a Reply