Friday, January 27, 2023
No menu items!

जेल प्रशासन की रक्षा बंधन के लिए स्पेशल तैयारी, बहनों के लिए शुरू की ये अनूठी पहल

Must Read
जेल प्रशासन की रक्षा बंधन के लिए स्पेशल तैयारी, बहनों के लिए शुरू की ये अनूठी पहल
Deepak Singhhttps://www.apnameerut.com
Deepak Singh is a resident of Meerut and working as a content writer for various agencies. He is proficient in Sports news, Bollywood news, and local city news.

लॉकडाउन के दौरान जेल में बंद भाइयों की कलाई सुनी नहीं रहेगी। इसके लिए जेल प्रशासन ने फैसला लेते हुए जेल के बाहर काउंटर सुविधा खोलने की अनुमति दे दी है। काउंटर सुविधा सुबह नौ बजे शाम पांच बजे तक रहेगी।

रिष्ठ जेल अधीक्षक बीडी पांडेय ने बताया कि कोरोना वायरस की वजह से मुलाकात बंद पड़ी है। ऐसे में राखी के त्यौहार पर जेल के बाहर काउंटर व्यवस्था होगी।

जिसके तहत जेल में बंद बंदियों की बहने लिफाफे में राखी रखकर उस पर बंदी का नाम व पता लिख कर काउंटर पर जमा कर देंगी। जेल प्रशासन उन राखियों को 24 घंटे के लिए एक बैरक में रखकर सैनिटाइज करके बंदियों तक पहुंचा देंगे। यह सुविधा मंगलवार से शनिवार शाम तक पांच बजे तक रहेगी। इसके अलावा काउंटर सुविधा के दौरान मिठाई और अन्य खाने की वस्तु नहीं ली जायेगी।

- Advertisement -जेल प्रशासन की रक्षा बंधन के लिए स्पेशल तैयारी, बहनों के लिए शुरू की ये अनूठी पहल

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -जेल प्रशासन की रक्षा बंधन के लिए स्पेशल तैयारी, बहनों के लिए शुरू की ये अनूठी पहल
Latest News

राज्यपाल ने पीएम मोदी की पुस्तक ‘एग्जाम वॉरियर्स’ का विमोचन किया

शिमला। राज्यपाल राजेंद्र विश्वनाथ अर्लेकर ने शुक्रवार को राजभवन में शिमला के विभिन्न स्कूलों के छात्रों, शिक्षकों और अभिभावकों की उपस्थिति में प्रधानमंत्री...

CMS IT Services Appoints Sanjeev Singh as CEO and Managing Director

CMS IT Services announced today that its Board of Directors has appointed Mr. Sanjeev Singh as Chief Executive Officer & Managing Director of the...
- Advertisement -जेल प्रशासन की रक्षा बंधन के लिए स्पेशल तैयारी, बहनों के लिए शुरू की ये अनूठी पहल

More Articles Like This

- Advertisement -जेल प्रशासन की रक्षा बंधन के लिए स्पेशल तैयारी, बहनों के लिए शुरू की ये अनूठी पहल