Friday, January 27, 2023
No menu items!

कोरोना लॉकडाउन के बाद लॉजिस्टिक्स और पर्यटन ने पैदा कीं सबसे ज्यादा नौकरियां

Must Read

बिजनौर में विधायक के पीए ने डीएफओ से की बदसलूकी, एसपी ने नहीं लिखी रिपोर्ट, सरकार ने किया सस्पेंड

बिजनौर। अमनगढ़ क्षेत्र में निर्माण को लेकर भाजपा विधायक व डीएफओ बिजनौर के बीच उठा विवाद डीएफओ के...

एक बार फिर पर्दे पर धमाल मचाने आ रहे हैं मुन्ना भाई और सर्किट, इसी साल रिलीज होगी फिल्म

मुन्नाभाई और सर्किट के रूप में संजय दत्त और अरशद वारसी शायद हिंदी सिनेमा के सबसे चर्चित किरदारों में...

रेलवे स्टेशन के विकास में बाधक, हनुमान जी का मंदिर हटाने के आदेश

बांधने के लिए। सेंट्रल रेलवे के बांदा रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर एक के बाहर हनुमान जी का...
कोरोना लॉकडाउन के बाद लॉजिस्टिक्स और पर्यटन ने पैदा कीं सबसे ज्यादा नौकरियां
Deepak Singhhttps://www.apnameerut.com
Deepak Singh is a resident of Meerut and working as a content writer for various agencies. He is proficient in Sports news, Bollywood news, and local city news.

राष्ट्रीय कौशल विकास निगम (एनएसडीसी) के एक आकलन के अनुसार, कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए लागू किए गए लॉकडाउन के बाद पर्यटन, हॉस्पिटेलिटी, निर्माण, सूचना प्रौद्योगिकी, टेलीकॉम, और लॉजिस्टिक्स देश के शीर्ष पांच रोजगार पैदा करने वाले क्षेत्रों के रूप में उभरा है। डाटा की मानें तो, मांग के आधार पर 5 सबसे लोकप्रिय नौकरी सामने आई हैं, उनमें कूरियर डिलीवरी एक्जीक्यूटिव, हाउसकीपिंग अटेंडेंट, कस्टमर केयर एग्जीक्यूटिव, वेयरहाउस एसोसिएट और मशीन ऑपरेटर शामिल हैं।

जुलाई की शुरुआत में लॉन्च किए गए आत्मानिर्भर स्किल्ड एम्प्लॉई मैपिंग पोर्टल (ASEEM) के आंकड़ों के आधार पर पता चलता है कि 15 जुलाई और 7 अगस्त के बीच, लगभग 64,689 नौकरियां कुशल श्रमिकों को दी गईं। ये सभी श्रमिक या तो बेरोजगार थे या फिर लॉकडाउन के चलते जिनकी नौकरी चली गई थी।

मार्च महीने के आखिरी में देशभर में लागू किए गए लॉकडाउन की वजह से बड़ी संख्या में लोगों की नौकरी गई थी। वहीं, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश समेत देशभर के प्रवासी श्रमिक पैदल ही अपने घर निकलने के लिए मजबूर हो गए थे। हालांकि, बाद में केंद्र सरकार ने विशेष श्रमिक ट्रेनों का संचालन कर श्रमिकों को उनके गंतव्य तक पहुंचाया था।

- Advertisement -कोरोना लॉकडाउन के बाद लॉजिस्टिक्स और पर्यटन ने पैदा कीं सबसे ज्यादा नौकरियां

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -कोरोना लॉकडाउन के बाद लॉजिस्टिक्स और पर्यटन ने पैदा कीं सबसे ज्यादा नौकरियां
Latest News

बिजनौर में विधायक के पीए ने डीएफओ से की बदसलूकी, एसपी ने नहीं लिखी रिपोर्ट, सरकार ने किया सस्पेंड

बिजनौर। अमनगढ़ क्षेत्र में निर्माण को लेकर भाजपा विधायक व डीएफओ बिजनौर के बीच उठा विवाद डीएफओ के...

एक बार फिर पर्दे पर धमाल मचाने आ रहे हैं मुन्ना भाई और सर्किट, इसी साल रिलीज होगी फिल्म

मुन्नाभाई और सर्किट के रूप में संजय दत्त और अरशद वारसी शायद हिंदी सिनेमा के सबसे चर्चित किरदारों में से एक हैं। दर्शक...

रेलवे स्टेशन के विकास में बाधक, हनुमान जी का मंदिर हटाने के आदेश

बांधने के लिए। सेंट्रल रेलवे के बांदा रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर एक के बाहर हनुमान जी का मंदिर बना हुआ है. ...

पर्दे के पीछे पाकिस्तान और भारत के बीच कोई बातचीत नहीं: हिना रब्बानी

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की विदेश राज्य मंत्री हिना रब्बानी खार ने साफ कर दिया है कि पाकिस्तान और भारत के बीच पर्दे के पीछे...

बीजेपी नेता को मिली धमकी- पार्टी छोड़ दो, लश्कर-ए-खालसा के नाम से फोन आया!

मुरादाबाद। मुरादाबाद थाना छजलत निवासी भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा के जिला मंत्री वीर सिंह सैनी ने बुधवार को मुरादाबाद के वरिष्ठ पुलिस...
- Advertisement -कोरोना लॉकडाउन के बाद लॉजिस्टिक्स और पर्यटन ने पैदा कीं सबसे ज्यादा नौकरियां

More Articles Like This

- Advertisement -कोरोना लॉकडाउन के बाद लॉजिस्टिक्स और पर्यटन ने पैदा कीं सबसे ज्यादा नौकरियां