मेरठ : डाबका में कुर्बानी को लेकर तनाव, हिंदुओं ने कहा- गांव में नई परंपरा नहीं शुरू होने देंगे

0
707
bakreed

उत्तरप्रदेश के मेरठ में बकरीद त्योहार पर कुर्बानी को लेकर दो समुदाय आमने सामने आ गए। मामला मेरठ के कंकरखेड़ा थाना क्षेत्र के डाबका गांव का है। सूचना पर पहुंची पुलिस ने कुर्बानी के गोश्त को कब्जे में लेकर गड्‌ढे में दबाया। 

जानकारी के मुताबिक गांव के रहने वाले रहमत ने अपने घर पर भैंस की कुर्बानी दी। इसकी सूचना क्षेत्र में रहने वाले हिंदु परिवारों को मिली तो हिंदू समाज के लोगों ने इकट्ठा होकर हंगामा कर दिया। गांव में तनाव का माहौल हो गया और चौराहे पर दोनों पक्षों के लोग जुट गए।  ग्रामीणों ने रहमत से कुर्बानी का विरोध जताया। सूचना पर कंकरखेडा इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंचे और मामले की जानकारी ली। पुलिस टीम ने हंगामा कर रहे लोगों को खदेड़ा, वहीं लिस को आते देखकर कुर्बानी करने वाले वाले भाग खड़े हुए।

हिंदू परिवारों का आरोप था कि उनके गांव में आज तक किसी घर में कुर्बानी नहीं हुई है, लेकिन रहमत ने कुर्बानी देकर नई परंपरा शुरू कर दी है। इस परंपरा से गांव का माहौल खराब हो सकता है। ग्रामीणों ने कहा कि इस परंपरा को किसी भी कीमत पर आगे नहीं बढ़ने दिया जाएगा। इस दौरान ग्रामीणों की पुलिस के साथ भी नोकझोंक हुई। 

पुलिस ने मुस्लिम समजा के 3 घरों से कुर्बानी की भैस का मीट बराबर किया। पुलिस ने दोनों पक्षों को समझाया और शांत कराया। इसके बाद पुलिस ने कब्जे में लिए गए गोश्त को गड्‌ढे में दबाया। इंस्पेक्टर तपेश्वर सागर का कहना है कि कुर्बानी करने वाले पक्ष को चेतावनी दी गई है साथ ही वैधानिक कार्रवाई की जा रही है।तनाव को देखते हुए पुलिस कर्मियों की गांव में ही ड्यूटी लगाई गई है।

Leave a Reply