Friday, January 27, 2023
No menu items!

उत्तर प्रदेश में अब छोटी जगहों पर खुल सकते हैं बार, उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने दी मंजूरी

Must Read

फतेहपुर में धर्मांतरण का एक और मामला आया सामने, 47 नामजद और 20 अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज

फतेहपुर (उप्र)। उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के हरिहरगंज ईसीआई चर्च में 90 हिंदुओं के सामूहिक धर्मांतरण का एक...

बिजनौर में विधायक के पीए ने डीएफओ से की बदसलूकी, एसपी ने नहीं लिखी रिपोर्ट, सरकार ने किया सस्पेंड

बिजनौर। अमनगढ़ क्षेत्र में निर्माण को लेकर भाजपा विधायक व डीएफओ बिजनौर के बीच उठा विवाद डीएफओ के...

एक बार फिर पर्दे पर धमाल मचाने आ रहे हैं मुन्ना भाई और सर्किट, इसी साल रिलीज होगी फिल्म

मुन्नाभाई और सर्किट के रूप में संजय दत्त और अरशद वारसी शायद हिंदी सिनेमा के सबसे चर्चित किरदारों में...
उत्तर प्रदेश में अब छोटी जगहों पर खुल सकते हैं बार, उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने दी मंजूरी

उत्तर प्रदेश में अब छोटी जगहों पर बार खुल सकेंगे। प्रदेश की उत्तर प्रदेश सरकार ने मंगलवार को हुई कैबिनेट बैठक में इस संबंध में उत्तर प्रदेश आबकारी (Acceptance of Bar License) नियम (प्रथम संशोधन) के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी। अब बार लाइसेंस की स्वीकृति के लिए अब तक 200 वर्ग मीटर बैठने की जगह अनिवार्य थी, जिसे 100 वर्ग मीटर कुर्सी क्षेत्र कर दिया गया है। बार लाइसेंस प्रदान करने के लिए न्यूनतम बैठने की क्षमता 40 व्यक्तियों से बढ़ाकर 30 व्यक्तियों की गई है।Read Also:-मेरठ: गोरखपुर की तरह मेरठ, झांसी और बरेली में बनेगा चिड़ियाघर, उत्तर प्रदेश के कई शहरों में शुरू होगा सीएम योगी का ड्रीम प्रोजेक्ट,

अब बार की इमारत को पूरा होने के बारे में समर्थन दस्तावेजों के साथ प्रमाण पत्र या हलफनामे का उत्पादन नहीं करना होगा। इसके स्थान पर संबंधित विकास प्राधिकरण या स्थानीय निकाय द्वारा प्रस्तावित परिसर से संबंधित भवन के स्वीकृत नक्शे की प्रमाणित प्रति दी जाएगी। इसके अलावा, शराब या बीयर के साथ भोजन परोसने के लिए स्थानीय प्राधिकरण से वाणिज्यिक लाइसेंस प्राप्त करने की आवश्यकता को उन बार या होटलों और रेस्तरां के लिए भी समाप्त कर दिया गया है जिनके पास शराब या बीयर परोसने का लाइसेंस है। आवासीय परिसर में अपने परिवार के सदस्यों के साथ शराब या बीयर का सेवन करने के लिए होम लाइसेंस बनवाने की पेचीदगियों को दूर कर इसे भी आसान बना दिया गया है।

आबकारी विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव संजय आरआर भूसरेड्डी ने बताया कि पर्सनल होम बार लाइसेंस के मौजूदा प्रावधानों में संशोधन किया गया है। अब व्यक्तिगत होम बार लाइसेंस किसी भी व्यक्ति को उसके परिवार के सदस्यों, रिश्तेदारों, मेहमानों और दोस्तों द्वारा आवासीय परिसर में घरेलू रूप से निर्मित अंग्रेजी शराब और आयातित अंग्रेजी शराब के सेवन के लिए दिया जा सकता है, जिनकी आयु 21 वर्ष से कम नहीं है। और अब आबकारी आयुक्त की अनुमति से ही निजी गृह बार लाइसेंस परिसर का निरीक्षण किया जाएगा।

कैबिनेट में लिए गए निर्णय के अनुसार बार लाइसेंस के नवीनीकरण के नियमों में भी ढील दी गई है। अब उत्तर प्रदेश आबकारी (बार लाइसेंस की स्वीकृति) नियम, 2022 के लागू होने से पहले चल रहे सभी बार लाइसेंस धारकों का नवीनीकरण किया जा सकता है। वित्तीय वर्ष की समाप्ति से दो माह पूर्व लाइसेंस नवीनीकरण हेतु आवेदन प्रस्तुत करने का प्रावधान था, जिसमें वित्तीय वर्ष समाप्त होने से एक माह पूर्व आवेदन पत्र जमा करने का संशोधन किया गया है।

whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

- Advertisement -उत्तर प्रदेश में अब छोटी जगहों पर खुल सकते हैं बार, उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने दी मंजूरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -उत्तर प्रदेश में अब छोटी जगहों पर खुल सकते हैं बार, उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने दी मंजूरी
Latest News

फतेहपुर में धर्मांतरण का एक और मामला आया सामने, 47 नामजद और 20 अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज

फतेहपुर (उप्र)। उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जिले के हरिहरगंज ईसीआई चर्च में 90 हिंदुओं के सामूहिक धर्मांतरण का एक...

बिजनौर में विधायक के पीए ने डीएफओ से की बदसलूकी, एसपी ने नहीं लिखी रिपोर्ट, सरकार ने किया सस्पेंड

बिजनौर। अमनगढ़ क्षेत्र में निर्माण को लेकर भाजपा विधायक व डीएफओ बिजनौर के बीच उठा विवाद डीएफओ के निलंबन के बाद समाप्त हो...

एक बार फिर पर्दे पर धमाल मचाने आ रहे हैं मुन्ना भाई और सर्किट, इसी साल रिलीज होगी फिल्म

मुन्नाभाई और सर्किट के रूप में संजय दत्त और अरशद वारसी शायद हिंदी सिनेमा के सबसे चर्चित किरदारों में से एक हैं। दर्शक...

रेलवे स्टेशन के विकास में बाधक, हनुमान जी का मंदिर हटाने के आदेश

बांधने के लिए। सेंट्रल रेलवे के बांदा रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर एक के बाहर हनुमान जी का मंदिर बना हुआ है. ...

पर्दे के पीछे पाकिस्तान और भारत के बीच कोई बातचीत नहीं: हिना रब्बानी

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की विदेश राज्य मंत्री हिना रब्बानी खार ने साफ कर दिया है कि पाकिस्तान और भारत के बीच पर्दे के पीछे...
- Advertisement -उत्तर प्रदेश में अब छोटी जगहों पर खुल सकते हैं बार, उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने दी मंजूरी

More Articles Like This

- Advertisement -उत्तर प्रदेश में अब छोटी जगहों पर खुल सकते हैं बार, उत्तर प्रदेश कैबिनेट ने दी मंजूरी