सरधना क्षेत्र के गांव में शुक्रवार रात शादी समारोह में हर्ष फायरिंग के दौरान गोली लगने से बाउंसर मोनू की मौत से नाराज ग्रामीणों ने शनिवार सुबह पीड़ित परिवार के साथ रास्ते में दौराला हाईवे पर सकौती गांव के सामने शव हाईवे पर रख जाम कर दिया। पीड़ित परिवार की मांग है कि पुलिस ना तो किसी आरोपी को पकड़ पाई है और ना ही यह बताने में सक्षम है कि आखिर बाउंसर मुजफ्फरनगर में अपनी ड्यूटी से शादी में कैसे पहुंचा। हाईवे पर जाम की सूचना मिलते एसडीएम सरधना अमित भारतीय व सीओ के साथ अन्य अधिकारी मौके पर पहुंच गये तथा उन्होने ग्रामीणों को समझाकर जाम खुलवाने का प्रयास शुरू कर दिया।

Leave a Reply