Home क्राइम मेडिकल इमरजेंसी में मर्डर के मामले में दो डाक्टरों पर तीन लाख...

मेडिकल इमरजेंसी में मर्डर के मामले में दो डाक्टरों पर तीन लाख का जुर्माना

एलएलआरएम मेडिकल कॉलेज 2013 में पुरानी इमरजेंसी में एक मरीज की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में मानवाधिकार आयोग ने सुरक्षा इंतजाम में गंभीर लापरवाही का दोषी मानते हुए मेडिकल प्रशासन के उस समय के पूर्व प्राचार्य डॉ. प्रदीप भारती गुप्ता, पूर्व सीएमएस डॉ. सुभाष सिंह पर तीन लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। मानवाधिकार आयोग के इस फैसले पर शासन ने मुहर लगा दी है। इस मामले में जुर्माने से मेडिकल कॉलेज में हड़कंप मचा है।

यह था मामला

वर्ष 2013 में अमरोहा के रहने वाले नितिन को घायल अवस्था में मेडिकल अस्पताल की इमरजेंसी में भर्ती कराया गया था। युवक कोर्ट में चल रहे एक मामले में गवाह था। इमरजेंसी में युवक की चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई थी। बगल के बेड पर भर्ती आरोपी रात में हत्या कर मौके से फरार हो गया था। इमरजेंसी में हत्या का मामला काफी दिनों तक चर्चा में रहा।

Must Read

मेडिकल इमरजेंसी में मर्डर के मामले में दो डाक्टरों पर तीन लाख का जुर्माना