Friday, February 3, 2023
No menu items!

पिछले सात महीनों से नहीं बदला विद्युत मीटर, बढ़ रही रिश्वत की मांग

Must Read

क्रय केंद्र पर ड्यूटी के दौरान चौकीदार की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, खेत में मिला शव

मेरठ। परीक्षितगढ़ के सोना गांव स्थित गन्ना क्रय केंद्र पर ड्यूटी के दौरान एक चौकीदार की संदिग्ध परिस्थितियों...

मुजफ्फरनगर में आगामी 7 फरवरी को जिलाधिकारी कार्यालय पर रालोद करेगा विशाल धरना प्रदर्शन

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर में आगामी 7 फरवरी को जिलाधिकारी कार्यालय पर रालोद विशाल धरना प्रदर्शन करेगा। जनपद में रालोद के...

लक्ष्य से 34% अधिक एनएसवी के साथ जिला पहली बार “ए” श्रेणी में पहुंचा।

गाज़ियाबाद। परिवार नियोजन के मामले में हमारा जिला पहली बार “डी” से “ए” श्रेणी में आया है। ...
The Sabera Desk
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

हापुड़, सीमन (ehapurnews.com): बिजली विभाग का भ्रष्टाचार और विवादों से पुराना नाता है। बिजली विभाग के अधिकारी और कर्मचारी निडर होकर खुलेआम रिश्वत की मांग करते हैं… बल्कि इस मांग को वसूली कहना उचित रहेगा। ताजा मामला हापुड़ की इंदरगढ़ी का है जहां अधिकारियों की शह पर लाइनमैन मीटर बदलने के नाम पर लगातार पैसों की डिमांड कर रहा है। कभी 1,500 तो कभी दो हजार रुपए। यह रकम लगातार बढ़ती जा रही है। बता दें कि अधिकारियों के आशीर्वाद से ही लाइनमैन खुलेआम रिश्वत की मांग करते हैं।इंदरगढ़ी निवासी पूनम पत्नी नेमचंद के यहां लगा मीटर एक नहीं दो नहीं बल्कि पिछले कई महीनों से काफी ज्यादा रीडिंग दे रहा है जिसके बाद उपभोक्ता ने मीटर बदलने का प्रार्थना पत्र भी उपखंड अधिकारी को दिया। उपभोक्ता ने यह भी बताया कि उपखंड अधिकारी ने तो पहला प्रार्थना पत्र खो दिया जिसके पश्चात एक और प्रार्थना पत्र लिया गया। इस संबंध में 30 जुलाई वर्ष 2022 में उपखंड अधिकारी विद्युत वितरण खंड प्रथम हापुड़ ने पत्रांक संख्या 923 के क्रम संख्या 5 में पूनम के मीटर को बदलने की कार्रवाई करते हुए सहायक अभियंता मीटर विद्युत परीक्षणशाला हापुड़ को पत्र लिखा लेकिन लाइनमैन ने छह महीने बाद भी मीटर नहीं बदला है।लाइनमैन मीटर रीडर आदि की मिलीभगत से लगातार उपभोक्ता को सता रहा है जिसका कहना है कि यदि रिश्वत नहीं दी तो उन्हें परेशानी उठानी पड़ेगी। जरा सोचिए उपखंड अधिकारी विद्युत वितरण उपखंड प्रथम हापुड़ से शिकायत के बाद भी मीटर अभी तक नहीं बदला गया है। ऐसे में आप समझ सकते हैं उपखंड अधिकारी की भूमिका भी संदेह के घेरे में है।उपभोक्ता का पुत्र पिछले कई दिनों से विभाग के चक्कर लगा रहा है। यहां तक कि उसने बिजली विभाग की हेल्पलाइन पर भी मामले की शिकायत की लेकिन किसी ने अभी तक सुध नहीं ली है।मीटर रीडर, लाइनमैन, उपखंड अधिकारी की संपत्ति की जांच होनी चाहिए। साथ ही उपभोक्ता को सताने वालों के खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए।
चर्म रोग, गुप्त रोग आदि की महिला मरीज के लिए महिला चिकित्सक : 9719123457

Previous articleबेसिक शिक्षा अधिकारी के दफ्तर पर भी मनाया गया राष्ट्रीय मतदाता दिवस

.

News Source: https://ehapurnews.com/%E0%A4%AA%E0%A4%BF%E0%A4%9B%E0%A4%B2%E0%A5%87-%E0%A4%B8%E0%A4%BE%E0%A4%A4-%E0%A4%AE%E0%A4%B9%E0%A5%80%E0%A4%A8%E0%A5%8B%E0%A4%82-%E0%A4%B8%E0%A5%87-%E0%A4%A8%E0%A4%B9%E0%A5%80%E0%A4%82-%E0%A4%AC/

- Advertisement -पिछले सात महीनों से नहीं बदला विद्युत मीटर, बढ़ रही रिश्वत की मांग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -पिछले सात महीनों से नहीं बदला विद्युत मीटर, बढ़ रही रिश्वत की मांग
Latest News

क्रय केंद्र पर ड्यूटी के दौरान चौकीदार की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, खेत में मिला शव

मेरठ। परीक्षितगढ़ के सोना गांव स्थित गन्ना क्रय केंद्र पर ड्यूटी के दौरान एक चौकीदार की संदिग्ध परिस्थितियों...

मुजफ्फरनगर में आगामी 7 फरवरी को जिलाधिकारी कार्यालय पर रालोद करेगा विशाल धरना प्रदर्शन

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर में आगामी 7 फरवरी को जिलाधिकारी कार्यालय पर रालोद विशाल धरना प्रदर्शन करेगा। जनपद में रालोद के जिम्मेदार नेताओ ने पार्टी कार्यालय...

लक्ष्य से 34% अधिक एनएसवी के साथ जिला पहली बार “ए” श्रेणी में पहुंचा।

गाज़ियाबाद। परिवार नियोजन के मामले में हमारा जिला पहली बार “डी” से “ए” श्रेणी में आया है। परिवार नियोजन के प्रति लोगों...

मुजफ्फरनगर में सीएमओ ने समीक्षा बैठक कर कुष्ठ रोग से निजात दिलाने का लिया निर्देश

मुजफ्फरनगर। राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के तहत शुक्रवार को रेडक्रास भवन में समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया. बैठक को संबोधित करते...

एमएलसी चुनाव को लेकर अखिलेश बोले, ‘भाजपा बेईमानी से एक-दूसरे को बधाई दे रही’

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने एमएलसी चुनाव में हार के बाद बीजेपी पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी को...
- Advertisement -पिछले सात महीनों से नहीं बदला विद्युत मीटर, बढ़ रही रिश्वत की मांग

More Articles Like This

- Advertisement -पिछले सात महीनों से नहीं बदला विद्युत मीटर, बढ़ रही रिश्वत की मांग