गांव के पंचायत घरों में 27 सुविधाएं मुफ्त मिलेंगी, दो सेवाओं पर पांच रुपये देने होंगे

0
675
गांव के पंचायत घरों में 27 सुविधाएं मुफ्त मिलेंगी, दो सेवाओं पर पांच रुपये देने होंगे

जन सेवा केंद्र और सीएससी से सभी योजनाओं और सुविधाओं के लिए आवेदन शुल्क देकर जो सेवा ग्रामीण लेते थे, वह अब सरकार गांव के पंचायत घरों को ही मुफ्त देने जा रही है. पंचायत सहायकों को तैनात किया जा रहा है और ग्रामीणों को दो दर्जन से अधिक सेवाएं बिल्कुल मुफ्त प्रदान की जाएंगी। लोग आधार कार्ड से लेकर राशन कार्ड, पेंशन आवेदन आदि सभी काम करवा सकते हैं।

बदायूं जिले की 1037 ग्राम पंचायतें डिजिटल इंडिया से जुड़ रही हैं। अगले माह तक पंचायत सहायकों की तैनाती के बाद उन्हें गांव के पंचायत घरों में बैठाया जाएगा. ग्राम-ग्राम पंचायत सहायक ग्रामीणों के लिए 29 प्रकार की ऑनलाइन सेवाएं प्रदान कर सकेंगे। यह वर्क मॉडल चार्टर सिस्टम लागू किया जा रहा है। इस व्यवस्था में पंचायत सहायक ग्रामीणों के राशन कार्ड से लेकर बिजली कनेक्शन, पेंशन योजना जैसे सभी आवेदन करेंगे। साथ ही आधार कार्ड से लेकर राशन कार्ड तक बनेगा। साथ ही मृत्यु और जन्म प्रमाण पत्र भी बनवाए जाएंगे।

गांव के पंचायत घरों में 27 सुविधाएं मुफ्त मिलेंगी, दो सेवाओं पर पांच रुपये देने होंगे

सिर्फ दो सेवाओं पर देने होंगे पांच रुपये
वैसे 29 सेवाएं ग्राम-ग्राम पंचायत घरों में उपलब्ध होंगी। लेकिन इसमें 27 सेवाएं पूरी तरह से नि:शुल्क होंगी और प्रत्येक ग्रामीण को दो सेवाओं पर शुल्क देना होगा। यदि कोई व्यक्ति परिवार रजिस्टर बनवाने के लिए आवेदन करता है तो उसे रुपये का शुल्क देना होगा। इसके अलावा जन्म प्रमाण पत्र बनवाने के लिए भी ग्रामीणों को पांच-पांच रुपये देने होंगे।

गांव के पंचायत घरों में 27 सुविधाएं मुफ्त मिलेंगी, दो सेवाओं पर पांच रुपये देने होंगे

जन सेवा केंद्र व शहर में जाने से मिलेगी राहत
सरकार गांव-गांव डिजिटल इंडिया तक पहुंचने की कोशिश कर रही है। पंचायत सहायकों की नियुक्ति के निर्णय के साथ सरकार ने गांव-गांव लोक सेवा केंद्रों की 29 सेवाएं बनाई हैं. जिसमें लोग फ्री में गांव में ही अपना काम कर सकेंगे। ग्रामीणों को जन सेवा केंद्र के चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा, इसके अलावा शहर की ओर भागने की जरूरत नहीं पड़ेगी। जिला पंचायत राज अधिकारी डॉ. सरनजीत सिंह कौर ने बताया कि सरकार गांव-गांव मॉडल चार्टर प्रणाली लागू करने जा रही है, इसके लिए जिले भर में पंचायत सहायकों की भर्ती प्रक्रिया चल रही है. गांव में पंचायत सहायकों को तैनात कर मॉडल चार्टर सिस्टम लागू किया जाएगा। इसमें आधार कार्ड बनवाने से लेकर राशन कार्ड और सभी तरह के आवेदन मुफ्त में गांव के लोग ले सकेंगे। केवल जन्म और परिवार का रजिस्टर रु.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here