Friday, February 3, 2023
No menu items!

मुख्यमंत्री योगी का बड़ा फैसला, इस योजना से अनाथ बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाएगी सरकार; शादी पर देंगे एक लाख एक हजार

Must Read

टारगेट किलिंग के शिकार कश्मीरी पंडितों को सुरक्षा की गारंटी दें पीएम: राहुल गांधी

नयी दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर...

क्रय केंद्र पर ड्यूटी के दौरान चौकीदार की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, खेत में मिला शव

मेरठ। परीक्षितगढ़ के सोना गांव स्थित गन्ना क्रय केंद्र पर ड्यूटी के दौरान एक चौकीदार की संदिग्ध परिस्थितियों...

मुजफ्फरनगर में आगामी 7 फरवरी को जिलाधिकारी कार्यालय पर रालोद करेगा विशाल धरना प्रदर्शन

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर में आगामी 7 फरवरी को जिलाधिकारी कार्यालय पर रालोद विशाल धरना प्रदर्शन करेगा। जनपद में रालोद के...
The Sabera Desk
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera
मुख्यमंत्री योगी का बड़ा फैसला, इस योजना से अनाथ बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाएगी सरकार; शादी पर देंगे एक लाख एक हजार

उत्तर प्रदेश सरकार ने अनाथ बच्चों की शिक्षा का खर्च मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के माध्यम से वहन करने का निर्णय लिया है। इसके लिए जून से एमआईएस पोर्टल शुरू किया जाएगा। शादी के योग्य होने पर लड़कियों को पैसा दिया जाएगा।Read Also;-केदारनाथ : दर्शन के लिए बदले नियम, प्रतिदिन दर्शन को धाम जा सकेंगे 13 हजार श्रद्धालु, यहां पर होगा रजिस्ट्रेशन

राज्य सरकार ने मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के माध्यम से अनाथ बच्चों की शिक्षा की जिम्मेदारी लेने का फैसला किया है। योजना के तहत बन रहा एमआईएस पोर्टल जून में शुरू होगा। योजना के तहत 11 से 18 वर्ष की आयु के अनाथ बच्चों की शिक्षा के लिए उन्हें अटल आवासीय विद्यालयों और कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालयों में प्रवेश दिया जाएगा, जहां उन्हें 12वीं तक की शिक्षा नि:शुल्क मिलेगी।

योजना के तहत राज्य सरकार अनाथ लड़कियों की शादी के लिए एक लाख एक हजार की राशि भी देगी यदि वे शादी के लिए पात्र हैं। इसके साथ ही योगी सरकार जीरो से 18 साल तक के ऐसे बच्चों को 4000 रुपये प्रति माह देगी, जिनके माता-पिता या दोनों की मौत कोरोना संक्रमण से हुई है। जो बच्चे अनाथ हो गए हैं उन्हें बाल कल्याण समिति के आदेश से विभाग के अंतर्गत संचालित बाल गृह में आश्रय दिया जायेगा।

सरकार नौवीं और उससे अधिक और व्यावसायिक शिक्षा प्राप्त करने वाले 18 वर्ष तक के बच्चों को टैबलेट और लैपटॉप दे रही है। इसके तहत अब तक 1060 बच्चों को लैपटॉप दिए जा चुके हैं। महिला कल्याण विभाग द्वारा कोविड-19 के अलावा अन्य कारणों से अनाथ बच्चों के माता-पिता से संपर्क कर आवेदन पत्र भरे जा रहे हैं। राज्य में अब तक कुल 4681 बच्चों की पहचान की जा चुकी है।

इसके साथ ही जिला टास्क फोर्स के माध्यम से 1565 आवेदनों को मंजूरी दी गई है। कोविड-19 के अलावा माता-पिता दोनों की मृत्यु होने पर कुल 383 अनाथ बच्चों और कोविड-19 के अलावा किसी अन्य माता-पिता की मृत्यु के मामले में 4775 अनाथ बच्चों को लाभान्वित किया गया है। इस तरह अब तक कुल 5158 बच्चे लाभान्वित हो चुके हैं।

whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

- Advertisement -मुख्यमंत्री योगी का बड़ा फैसला, इस योजना से अनाथ बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाएगी सरकार; शादी पर देंगे एक लाख एक हजार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -मुख्यमंत्री योगी का बड़ा फैसला, इस योजना से अनाथ बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाएगी सरकार; शादी पर देंगे एक लाख एक हजार
Latest News

टारगेट किलिंग के शिकार कश्मीरी पंडितों को सुरक्षा की गारंटी दें पीएम: राहुल गांधी

नयी दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष और सांसद राहुल गांधी ने शुक्रवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर...

क्रय केंद्र पर ड्यूटी के दौरान चौकीदार की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, खेत में मिला शव

मेरठ। परीक्षितगढ़ के सोना गांव स्थित गन्ना क्रय केंद्र पर ड्यूटी के दौरान एक चौकीदार की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई. ...

मुजफ्फरनगर में आगामी 7 फरवरी को जिलाधिकारी कार्यालय पर रालोद करेगा विशाल धरना प्रदर्शन

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर में आगामी 7 फरवरी को जिलाधिकारी कार्यालय पर रालोद विशाल धरना प्रदर्शन करेगा। जनपद में रालोद के जिम्मेदार नेताओ ने पार्टी कार्यालय...

लक्ष्य से 34% अधिक एनएसवी के साथ जिला पहली बार “ए” श्रेणी में पहुंचा।

गाज़ियाबाद। परिवार नियोजन के मामले में हमारा जिला पहली बार “डी” से “ए” श्रेणी में आया है। परिवार नियोजन के प्रति लोगों...

मुजफ्फरनगर में सीएमओ ने समीक्षा बैठक कर कुष्ठ रोग से निजात दिलाने का लिया निर्देश

मुजफ्फरनगर। राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के तहत शुक्रवार को रेडक्रास भवन में समीक्षा बैठक का आयोजन किया गया. बैठक को संबोधित करते...
- Advertisement -मुख्यमंत्री योगी का बड़ा फैसला, इस योजना से अनाथ बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाएगी सरकार; शादी पर देंगे एक लाख एक हजार

More Articles Like This

- Advertisement -मुख्यमंत्री योगी का बड़ा फैसला, इस योजना से अनाथ बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाएगी सरकार; शादी पर देंगे एक लाख एक हजार