Home Breaking News प्रसिद्ध कथक डांसर और आध्यात्मिक गुरु पुलकित महाराज के विवादित बोल, पुलिस ने दर्ज की एफआईआर,

प्रसिद्ध कथक डांसर और आध्यात्मिक गुरु पुलकित महाराज के विवादित बोल, पुलिस ने दर्ज की एफआईआर,

0
प्रसिद्ध कथक डांसर और आध्यात्मिक गुरु पुलकित महाराज के विवादित बोल, पुलिस ने दर्ज की एफआईआर,

मशहूर कथक डांसर और आध्यात्मिक गुरु के विवादित बयान का वीडियो रविवार रात सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इस वीडियो में पुलकित महाराज को एक धर्म के बारे में विवादित टिप्पणी करते हुए सुना जा सकता है।Read Also:-मेरठ : चोरी की बाइक बनी हत्या की वजह, 19 साल के दो दोस्तों ने पैसे के बटवारे के लिए पेचकस से गोद कर मार डाला, 10 दिन बाद यूं खुला राज

देश भर की मस्जिदों में लाउडस्पीकर पर प्रतिबंध को लेकर देशव्यापी बहस के बीच रविवार रात एक प्रसिद्ध कथक नर्तक और आध्यात्मिक गुरु पुलकित मिश्रा उर्फ ​​पुलकित महाराज के कथित विवादास्पद बयान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। इस वीडियो में पुलकित महाराज को एक धर्म के बारे में विवादित टिप्पणी करते हुए सुना जा सकता है। वायरल वीडियो साहिबाबाद का बताया जा रहा है।

वीडियो में पुलकित महाराज ऊंची आवाज में एक धर्म के लोगों की पूजा को लेकर विवादित बयान दे रहे हैं और उन्हें हिंदू धर्म में शामिल होने का प्रस्ताव दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि महमूद गजनवी अभी मरा नहीं है बल्कि उनमें से एक है।

पुलकित महाराज के इस वीडियो को समाजवादी पार्टी मीडिया सेल के ट्विटर हैंडल से भी शेयर किया गया है। इस वीडियो में उन्हें हिंदुओं से आतंकवादी बनने की अपील करते हुए सुना जा सकता है। thesabera.com स्वतंत्र रूप से इस वीडियो की सत्यता की पुष्टि नहीं करता है।

वहीं, इस विवादित बयान के सिलसिले में गाजियाबाद पुलिस ने साहिबाबाद थाने में मामला दर्ज किया है। पुलिस वायरल वीडियो की भी जांच कर रही है।

बता दें कि राजधानी दिल्ली के बुराड़ी मैदान में 4 अप्रैल को आयोजित हिंदू महापंचायत में डासना देवी मंदिर के महंत यति नरसिंहानंद सरस्वती ने भी हिंदुओं से अपने अस्तित्व को बचाने के लिए हथियार उठाने का आह्वान किया। इतना ही नहीं मुसलमानों के खिलाफ विवादित और अभद्र टिप्पणी करने के लिए मशहूर नरसिम्हनंद ने यह कहकर एक और विवाद खड़ा कर दिया था कि अगर कोई मुसलमान भारत का प्रधानमंत्री बनेगा तो 20 साल में 50 फीसदी हिंदू धर्म परिवर्तन कर लेगें। उन्होंने हिंदुओं से अपने अस्तित्व के लिए लड़ने के लिए हथियार उठाने का भी आह्वान किया।

खुद को बताते थे पीएम मोदी का आध्यात्मिक गुरु, पुलिस ने किया था गिरफ्तार
गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने कथक डांसर पुलकित महाराज उर्फ ​​पुलकित मिश्रा को साल 2018 में रोहिणी सेक्टर-18 से गिरफ्तार किया था। उन पर खुद को प्रधानमंत्री का आध्यात्मिक गुरु बताकर अलग-अलग राज्यों में सुरक्षा और वीआईपी प्रोटोकॉल की मांग करने का आरोप लगा था। दिल्ली पुलिस ने पीएमओ की शिकायत के बाद अगस्त में मामला दर्ज किया था।

पुलकित महाराज के ठिकाने से मिले विभिन्न मंत्रालयों के 20 फर्जी लेटर हेड
उस वक्त दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने पुलकित महाराज के ठिकाने से अलग-अलग मंत्रालयों के 20 फर्जी लेटर हेड बरामद किए थे। यह भी आरोप लगाया गया कि पुलकित महाराज जब भी दिल्ली से बाहर किसी अन्य राज्य में जाते थे तो केंद्र सरकार की ओर से संबंधित राज्य सरकार को एक फर्जी ईमेल भिजवाते थे। फर्जी ईमेल में बताया जाता था कि राष्ट्रपति से सम्मानित देश के प्रतिष्ठित कथक महाराज उनके यहां आने वाले हैं, इसलिए उन्हें राजकीय अतिथि की तरह वीआईपी सुविधाएं मुहैया कराई जाएं। साथ ही उनके लिए वीआईपी सुरक्षा का भी इंतजाम किया जाए।

whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here