Thursday, February 9, 2023
No menu items!

दिल्ली-मेरठ आरआरटीएस (RRTS) कॉरिडोर, एक बड़ा अचीवमेंट, पैकेज 1 के आखिरी स्पैन का लॉन्च पूरा हुआ, 17 KM सेक्शन में पुल लगाने का भी काम पूरा

Must Read
The Sabera Desk
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera
दिल्ली-मेरठ आरआरटीएस (RRTS) कॉरिडोर, एक बड़ा अचीवमेंट, पैकेज 1 के आखिरी स्पैन का लॉन्च पूरा हुआ, 17 KM सेक्शन में पुल लगाने का भी काम पूरा

17 किलोमीटर लंबे इस खंड पर साहिबाबाद से दुहाई डिपो तक कुल 5 स्टेशन साहिबाबाद, गाजियाबाद, गुलधर, दुहाई और दुहाई डिपो होंगे, जिनका निर्माण कार्य प्रगति पर है। इस खंड में ओएचई के लिए रास्ता साफ हो गया है और ट्रैक बिछाने का काम निर्धारित समय सीमा के भीतर किया जा रहा है।

विशेष डिजाइन वाले स्टील पुल स्थापित करने वाली यह टीम है।

दिल्ली-मेरठ आरआरटीएस कॉरिडोर के निर्माण में मंगलवार को एक बड़ी उपलब्धि हासिल हुई। जानकारी के मुताबिक साहिबाबाद से दुहाई के बीच 17 किमी की दूरी है। लंबे प्रायोरिटी सेक्शन पर गाजियाबाद में रेलवे लाइनों को क्रॉस करने के लिए स्पेशल स्टील स्पैन के पास पैकेज 1 के आखिरी स्पैन का लॉन्च पूरा कर लिया गया. लॉन्चिंग गैंट्री से गर्डर का आखिरी सेगमेंट लिफ्ट करके फिट किया गया. जिसके साथ ही साहिबाबाद से दुहाई के बीच के प्रायोरिटी सेक्शन तक का वायडक्ट का निर्माण पूरा हो गया। यह क्षेत्रीय रेल के क्रियान्वयन की दिशा में एक बड़ा कदम है। परियोजना खंड के बाद जून 2019 में प्राथमिकता खंड का काम शुरू किया गया था। इस बीच, दो लहरों के बावजूद, सिविल निर्माण कार्य केवल 3 वर्षों के भीतर पूरा होने के करीब आ गया है।Read Also: -आप के काम की बात: अगले 5 महीने तक मुफ्त में राशन चाहिए तो जल्दी करें ये काम, होंगे जबरदस्त बेनिफिट्स

पैकेज 1 साहिबाबाद से गाजियाबाद के बीच और पैकेज 2 गाजियाबाद से दुहाई के बीच, पैकेज 1 ने अब स्पैन बनाने का काम पूरा कर लिया है। सिविल निर्माण कार्य में इस प्रगति के बाद इन दोनों पैकेजों में सिग्नलिंग और टेलीकॉम सिस्टम लगाने की गति तेज हो जाएगी। 17 किलोमीटर लंबे इस खंड पर साहिबाबाद से दुहाई डिपो तक कुल 5 स्टेशन साहिबाबाद, गाजियाबाद, गुलधर, दुहाई और दुहाई डिपो होंगे, जिनका निर्माण कार्य प्रगति पर है। इस खंड में ओएचई के लिए रास्ता साफ हो गया है और ट्रैक बिछाने का काम निर्धारित समय सीमा के भीतर किया जा रहा है।

दुहाई डिपो में आरआरटीएस ट्रेनों के रखरखाव के लिए स्थिरीकरण और निरीक्षण लाइनों, रोलिंग स्टॉक रखरखाव यार्ड का निर्माण भी पटरी पर है। यहां प्रशासनिक भवन का निर्माण भी चल रहा है जिसमें प्रशिक्षण के लिए कई लैब, सिम्युलेशन रूम और विभिन्न प्रकार की कक्षाएं बनाई जा रही हैं। फिलहाल डिपो के पास ट्रैक बिछाने का काम भी तेजी से किया जा रहा है। 82 किलोमीटर लंबे दिल्ली-गाजियाबाद-मेरठ कॉरिडोर पर 23 लॉन्चिंग गैन्ट्री लगाई गई हैं।

whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

- Advertisement -दिल्ली-मेरठ आरआरटीएस (RRTS) कॉरिडोर, एक बड़ा अचीवमेंट, पैकेज 1 के आखिरी स्पैन का लॉन्च पूरा हुआ, 17 KM सेक्शन में पुल लगाने का भी काम पूरा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -दिल्ली-मेरठ आरआरटीएस (RRTS) कॉरिडोर, एक बड़ा अचीवमेंट, पैकेज 1 के आखिरी स्पैन का लॉन्च पूरा हुआ, 17 KM सेक्शन में पुल लगाने का भी काम पूरा
Latest News

कैल्शियम और विटामिन डी से दोस्ती करें

हड्डियों की मजबूती और विकास के लिए कैल्शियम और विटामिन डी जरूरी हैं। लड़कियों और महिलाओं को उनकी खास जरूरत होती है। ...

हिमाचल में 3 सगे भाई-बहन समेत 4 जिंदा जले

शिमला। हिमाचल प्रदेश के ऊना जिले में दो झोपड़ियों में आग लग गई। इस आग में चार नाबालिगों समेत तीन सगे भाई-बहन जिंदा जल गए।...
- Advertisement -दिल्ली-मेरठ आरआरटीएस (RRTS) कॉरिडोर, एक बड़ा अचीवमेंट, पैकेज 1 के आखिरी स्पैन का लॉन्च पूरा हुआ, 17 KM सेक्शन में पुल लगाने का भी काम पूरा

More Articles Like This

- Advertisement -दिल्ली-मेरठ आरआरटीएस (RRTS) कॉरिडोर, एक बड़ा अचीवमेंट, पैकेज 1 के आखिरी स्पैन का लॉन्च पूरा हुआ, 17 KM सेक्शन में पुल लगाने का भी काम पूरा