Home Breaking News ग्रेटर नोएडा: महिला सिपाही के प्यार में 4 हत्याएं: पत्नी व दो...

ग्रेटर नोएडा: महिला सिपाही के प्यार में 4 हत्याएं: पत्नी व दो बच्चों की हत्या कर घर में दफनाये शव, फिर खुद को भी मृत दिखाने के लिए अपने दोस्त को भी मार डाला; 3 साल बाद खुला राज,

ग्रेटर नोएडा: महिला सिपाही के प्यार में 4 हत्याएं: पत्नी व दो बच्चों की हत्या कर घर में दफनाये शव, फिर खुद को भी मृत दिखाने के लिए अपने दोस्त को भी मार डाला; 3 साल बाद खुला राज,

ग्रेटर नोएडा में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक शख्स ने एक महिला कांस्टेबल के प्यार में पहले अपनी पत्नी और दो बच्चों की हत्या कर दी. फिर तीनों के शवों को घर में ही गड्ढा खोदकर दफना दिया गया। उसके ऊपर दीवार खड़ी कर दी गई। इसके बाद युवक ने सेवानिवृत्त पुलिसकर्मी पिता के सहयोग से अपने ही कासगंज निवासी मित्र की हत्या कर दी। पहचान छुपाने के लिए, दोस्त का चेहरा क्षत-विक्षत भी कर दियाआऔर अपना आधार कार्ड भी शव के साथ छोड़ दिया। आखिरकार मंगलवार को पुलिस ने आरोपी युवक को पकड़ लिया। कड़ी पूछताछ में उसने पत्नी और बच्चों समेत चार हत्याओं की बात कबूल की। सबूत हासिल करने के लिए कासगंज व ग्रेटर नोएडा पुलिस बुधवार की रात आरोपी के पास जमीन से मनगढ़ंत शव बरामद करने पहुंची.Read Also:-याकूब कुरैशी तालिबान का क्रूर चेहरा! Republic Bharat ने मेरठ के पूर्व विधायक का फोटो लगाकर चलाई खबर

महिला सिपाही से चल रहा था प्रेम प्रसंग
पूरी घटना ग्रेटर नोएडा के बिसरख थाना क्षेत्र के ग्राम चिपियाना स्थित पंचविहार कॉलोनी की है. यहां के राकेश की शादी एटा निवासी रत्नेश से साल 2012 में हुई थी। शादी से पहले राकेश का प्रेम प्रसंग बिसरख गांव की रूबी से चल रहा था, जो यूपी पुलिस में 2015 बैच का सिपाही है। राकेश अपनी शादी से खुश नहीं था, लेकिन घरवालों के दबाव में उसे शादी करनी पड़ी। इसी बीच कासगंज पुलिस को पता चला कि मरने वाला शख्स राकेश नहीं बल्कि उसका दोस्त है. कासगंज पुलिस ने राकेश को 31 अगस्त को गिरफ्तार किया था।

14 फरवरी 2018 को पत्नी और बच्चों की हत्या कर दी गई थी
राकेश ने अपनी प्रेमिका रूबी को पाने के लिए 14 फरवरी 2018 को अपनी पत्नी रत्नेश के साथ अपनी बेटी अवनि (2) और बेटे अर्पित (3) को मार डाला। परिजनों की मदद से उसने घर में गड्ढा खोदकर तीनों के शवों को दफना दिया और उसके ऊपर सीमेंट की दीवार चिनवा दी। इसके बाद राकेश ने खुद को मृत दिखाने के लिए नई भूमिका तैयार की।

दोस्त की हत्या कर छोड़ दिया आधार कार्ड
वहीं 25 अप्रैल 2021 को कासगंज जिले में उसने अपने एक दोस्त की हत्या कर दी. आरोपी ने दोस्त का चेहरा क्षत-विक्षत कर दिया और अपना आधार कार्ड और एलआईसी पॉलिसी का एक दस्तावेज वहां रख दिया। पुलिस का मानना ​​था कि कासगंज में मिला उक्त शव राकेश का है. इसके बाद आरोपी राकेश अपनी पहचान छुपाकर कहीं और रहने लगा था।

जमीन की खुदाई करा रही कासगंज पुलिस
इसी बीच कासगंज पुलिस को पता चला कि मरने वाला शख्स राकेश नहीं बल्कि उसका दोस्त है. 31 अगस्त को कासगंज पुलिस ने राकेश और उसके सेवानिवृत्त पुलिसकर्मी पिता को गिरफ्तार किया था। पूछताछ करने पर उसने अपने दोस्त की हत्या करने की बात कबूल कर ली। पुलिस ने पूछा कि उसने दोस्त को क्यों मारा तो राकेश ने भीषण घटना से पर्दा हटा दिया। उसने बताया कि प्रेमिका को पाने के लिए उसने पहले अपनी पत्नी और बच्चों की हत्या कर ग्रेटर नोएडा के घर में गड्ढा खोदकर दफना दिया था. बुधवार की रात कासगंज पुलिस राकेश को लेकर ग्रेटर नोएडा पहुंची। अब दोनों जिलों की पुलिस की मौजूदगी में चिपियाना गांव के पंचविहार कॉलोनी में घर में जमीन खोदी जा रही है.

ग्रेटर नोएडा: महिला सिपाही के प्यार में 4 हत्याएं: पत्नी व दो बच्चों की हत्या कर घर में दफनाये शव, फिर खुद को भी मृत दिखाने के लिए अपने दोस्त को भी मार डाला; 3 साल बाद खुला राज,
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

Must Read

ग्रेटर नोएडा: महिला सिपाही के प्यार में 4 हत्याएं: पत्नी व दो बच्चों की हत्या कर घर में दफनाये शव, फिर खुद को भी मृत दिखाने के लिए अपने दोस्त को भी मार डाला; 3 साल बाद खुला राज,