Home Breaking News हेमा मालिनी ने सात हजार बच्चों के लिए की रसोई की शुरुआत,96...

हेमा मालिनी ने सात हजार बच्चों के लिए की रसोई की शुरुआत,96 विद्यालयों में पौष्टिक भोजन उपलब्ध

बरसाना। सांसद एवं प्रसिद्ध अभिनेत्री हेमा मालिनी ने अक्षय पात्र प्रतिष्ठान की 67वीं रसोई का रविवार को यहां उद्घाटन किया जिसके माध्यम से क्षेत्र के 96 विद्यालयों में 7500 से ज्यादा बच्चों को दिन का पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराया जाएगा।

– Advertisement –

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की मथुरा से लोकसभा सांसद ने बरसाना के आजनोख में इस मौके पर आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि अक्षय पात्र भारत में 67 से ज्यादा रसोई का संचालन कर रहा है। उन्होंने अक्षय पात्र को महाभारत काल की द्रोपदी की कथा से जोड़ते हुए कहा कि भगवान कृष्ण ने जिस तरह द्रोपदी के अक्षय पात्र में सबके लिए भोजन उपलब्ध कराया था उसी अवधारणा पर श्रीकृष्ण और राधा रानी की लीला भूमि में इस अक्षय पात्र से हज़ारों बच्चों को हर दिन भोजन उपलब्ध कराया जाएगा।

उन्होंने कहा कि अच्छा भोजन और पौष्टिक भोजन बच्चों को उपलब्ध हो, अक्षय पात्र यह सुनिश्चित करता है और इसी सोच के साथ अक्षय पात्र मथुरा जिले 2100 स्कूलों में भोजन उपलब्ध करा रहा है।

अक्षय पात्र फाउंडेशन के वॉइस चेयरमैन चंचलापति दास ने कहा कि इस रसोई के माध्यम से आसपास के 48 गांव के साढ़े सात हज़ार बच्चों को भोजन उपलब्ध कराया जाएगा। उनका कहना था यह रसोई पूरी तरह से महिलाओं द्वारा संचालित की जा रही सामूहिक रसोई है। महिलाओं को इसका संचालन देने की अवधारणा बताते हुए उन्होंने कहा कि जिस तरह एक मां प्यार से अपने बच्चों के लिए भोजन बनाती हैं उसी प्रेम भाव से इस रसोई में काम करने वाली महिलाओं का स्नेह सभी बच्चों को हर दिन मिले।

स्थानीय संचालक अनंत वीर्यदास ने कहा की रसोई में स्थानीय जैविक सब्जियों का इस्तेमाल किया जाएगा। उन्होंने आसपास के लोगों से बच्चों के लिए गाय का शुद्ध दूध उपलब्ध कराने का भी आग्रह किया है।

.

News Source: https://royalbulletin.in/hema-malini-started-kitchen-for-seven-thousand-childrennutritious-food-available-in-96-schools/71572

हेमा मालिनी ने सात हजार बच्चों के लिए की रसोई की शुरुआत,96 विद्यालयों में पौष्टिक भोजन उपलब्ध
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

Must Read

हेमा मालिनी ने सात हजार बच्चों के लिए की रसोई की शुरुआत,96 विद्यालयों में पौष्टिक भोजन उपलब्ध