Home Breaking News मेरठ में मकानों पर लगे 'मकान बिकाऊ है' के पोस्‍टर

मेरठ में मकानों पर लगे ‘मकान बिकाऊ है’ के पोस्‍टर

जनपद के मोदीपुरम की शिवनगर कालोनी में एक दर्जन मकानों के बाहर मकान बिकाऊ है के पोस्टर रविवार शाम को चस्पा कर दिए गए। कालोनी के लोग रास्ता चौड़ा करने की मांग कर रहे हैं। हैरानी की बात है कि मकानों के सामने खेत स्वामी ने जबरन जेसीबी मशीन से रास्ता काटकर अपने खेत में मिला लिया है। जिससे रास्ता तंग हो चुका है और अब मकान व दुकानों को बिक्री करके यहां से पलायन करने के सिवा कोई रास्ता नहीं बचा है।मेरठ में मकानों पर लगे 'मकान बिकाऊ है' के पोस्‍टर

मोदीपुरम की शिवनगर कालोनी गली-तीन गुरुद्वारा रोड निवासी यशपाल सिंह, जगत सिंह, धर्मपाल, हेम सिंह, कमलेश, धूम सिंह, दिनेश जैन और विरेंद्र सिंह का कहना है कि उन्होंने 1988 में सबसे पहले मकान बनकर तैयार किए थे। अब एक दर्जन से अधिक मकान गली में है। मकानों के मुख्य गेट के सामने वर्तमान में एक खेत हैं। शिवनगर कालोनी को बसाने वाले बिल्डर ने गली तीन के लिए पांच फिट रास्ता छोड़ा था। मेरठ में मकानों पर लगे 'मकान बिकाऊ है' के पोस्‍टरइससे आगे करीब 12 फिट चौड़ी सरकारी सड़क पहले से बनी थी। तब डीएमए स्कूल के सामने से मोदी कालोनी तक 17 फिट चौड़े रास्ते पर बस भी चलती थी। पिछले दिनों खेत स्वामी वीरेंद्र ने अपनी जमीन को बीच गली के रास्ते तक बताकर खुदवाकर पिलर लगवाए थे। हंगामा होने पर पुलिस ने काम रूकवा दिया। लोगों का कहना है कि स्थानीय पार्षद समेत डीएम और कमिश्नर तक गुहार लगा चुके हैं, मगर कहीं सुनवाई नहीं हो रही।

Must Read

मेरठ में मकानों पर लगे 'मकान बिकाऊ है' के पोस्‍टर