Home Breaking News सोशल मीडिया पर होगी खुफिया नज़र: योगी सरकार चुनाव से पहले बना...

सोशल मीडिया पर होगी खुफिया नज़र: योगी सरकार चुनाव से पहले बना रही है निगरानी केंद्र, एक भी गलत पोस्ट की गई तो होगी कार्यवाही

सोशल मीडिया पर होगी खुफिया नज़र: योगी सरकार चुनाव से पहले बना रही है निगरानी केंद्र, एक भी गलत पोस्ट की गई तो होगी कार्यवाही
सोशल मीडिया पर होगी खुफिया नज़र: योगी सरकार चुनाव से पहले बना रही है निगरानी केंद्र, एक भी गलत पोस्ट की गई तो होगी कार्यवाही

सोशल मीडिया पर एक गलती आपको जेल में डाल सकती है। उम्मीद है कि चुनाव के आखिरी मौके पर माहौल बिगाड़ने के लिए तरह-तरह की अफवाहें फैलाई जाएंगी. ऐसे में सरकार चुनाव से पहले सोशल मीडिया पर नियंत्रण के लिए एक बड़ा कदम उठाने जा रही है. खुफिया मुख्यालय में सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेंटर बनने जा रहा है. इसके लिए सरकार ने हरी झंडी दे दी है। अब खुफिया विभाग सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर हर मैसेज और पोस्ट पर नजर रखेगा.Read Also:-4000 से कम खर्च कर इस बिजनेस को शुरू करें और हर महीने 50 से 80 हजार रुपये कमाएं

मेरठ शहर में शादी, सगाई और अन्य आयोजनों में फैंसी पंडाल, फूलों की स्टेज, गद्दे, बिस्तर, क्रॉकरी व अन्य सामान के लिए संपर्क करें
गुप्ता टेंट हाउस एंड वेडिंग प्लानर : 82184346947397978781

अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने बताया कि सरकार ने सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेंटर की स्थापना को मंजूरी दे दी है. इसके लिए न्यूज एक्सट्रैक्टर सॉफ्टवेयर और डेटाबेस बेस्ड एनालिटिक्स सॉफ्टवेयर इंस्टॉल किया जाएगा। इस काम के पूरे प्रबंधन को संभालने की जिम्मेदारी नेशनल इंस्टीट्यूट फॉर स्मार्ट गवर्नमेंट (एनआईएसजी) को दी गई है। यह भारत सरकार द्वारा बनाया गया एक संगठन है, जो केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के कई विभागों में स्मार्ट सरकार में सहयोग करता है। यह कंपनी अधिनियम के तहत 2002 में इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा प्रशासनिक सुधार विभाग की सिफारिश पर स्थापित किया गया था।

Shudh bharat

व्यवस्था में सुधार के लिए सुझाव देगा संगठन
अवनीश अवस्थी ने कहा कि सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेल समय रहते सोशल मीडिया पर फैल रही अफवाहों पर रोक लगाएगा. जरूरत पड़ी तो कार्रवाई भी की जाएगी। जिससे कानून व्यवस्था में सुधार होगा।

पूर्व डीजीपी बोले- बेहतर होगी कानून-व्यवस्था
यूपी पुलिस के पूर्व डीजीपी एके जैन का कहना है कि कई राज्यों में खुफिया विभाग का अपना सोशल मीडिया मॉनिटरिंग सेल है। कानून व्यवस्था में सुधार की दिशा में राज्य सरकार का यह एक बड़ा कदम है। वैसे तो पुलिस सोशल मीडिया पर नजर रखती है, लेकिन हर तरह की गतिविधियों पर नजर रखने वाला और जानकारी रखने वाला खुफिया विभाग अगर अपने नजरिए से इस पर नजर रखे तो अपराध पर काफी हद तक काबू पाया जा सकेगा.

news shorts

ट्विटर इंडिया के पूर्व एमडी के खिलाफ केस दर्ज
लोनी इलाके में अब्दुल समद नाम के एक बुजुर्ग के साथ मारपीट और छेड़छाड़ का वीडियो वायरल होने के बाद इस साल 14 जून को गाजियाबाद पुलिस ने ट्विटर समेत 9 पर प्राथमिकी दर्ज की थी. घटना को गलत तरीके से सांप्रदायिक रंग देने के चलते इन सभी पर यह कार्रवाई की गई है।

पुलिस के मुताबिक, मामले की सच्चाई कुछ और थी। पीड़िता के बड़े ने आरोपी को कुछ ताबीज दिए थे, जिससे आरोपी को नतीजा नहीं निकला, नाराज आरोपी ने घटना को अंजाम दिया, लेकिन ट्विटर ने इस वीडियो को ‘छेड़छाड़ मीडिया’ के रूप में टैग नहीं किया। पुलिस ने यह भी बताया कि जय श्री राम के नारे लगाने और दाढ़ी काटने को लेकर पीड़िता ने प्राथमिकी दर्ज नहीं की थी.

advt.

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

सोशल मीडिया पर होगी खुफिया नज़र: योगी सरकार चुनाव से पहले बना रही है निगरानी केंद्र, एक भी गलत पोस्ट की गई तो होगी कार्यवाही
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

Must Read

सोशल मीडिया पर होगी खुफिया नज़र: योगी सरकार चुनाव से पहले बना रही है निगरानी केंद्र, एक भी गलत पोस्ट की गई तो होगी कार्यवाही