Home Breaking News कानपुर : 100 से ज्यादा कॉल कर आत्महत्या के लिए उकसाया, निकाली...

कानपुर : 100 से ज्यादा कॉल कर आत्महत्या के लिए उकसाया, निकाली डरावनी अवाजें, कहा – अपनी जान दे वरना पीछा नहीं छोडूंगा

कानपुर : 100 से ज्यादा कॉल कर आत्महत्या के लिए उकसाया, निकाली डरावनी अवाजें, कहा - अपनी जान दे वरना पीछा नहीं छोडूंगा

कानपुर में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है। यहां इंटर पास नेत्रहीन छात्र को सुबह, शाम, रात और दिन में कभी भी किसी अनजान नंबर से कॉल आ रही है। फोन करने वाला कभी डरावनी आवाज करता है तो कभी धमकी देकर परेशान करता है। छात्रा ने बताया कि फोन करने वाले ने कहा है कि अगर तुम आत्महत्या करोगे तो मैं तुम्हें परेशान करना बंद कर दूंगा. इससे छात्र व उसके परिजन दोनों परेशान हैं। परिजनों की शिकायत के बाद नौबस्ता पुलिस मामले की जांच में जुट गई है.

फोन मिलने पर गलियां देता है
केशव नगर नौबस्ता के रहने वाले आशीष शुक्ल (23) जन्म से नहीं देख सकते। इंटर की पढ़ाई करने के बाद अब वह बीएचयू से प्रोफेशनल स्टडी की तैयारी कर रहे हैं। पिता का निधन हो गया है। आशीष अपने नाना के साथ मां मीना के साथ रहता है। आशीष के नाना और मां ही उनका सहारा हैं।

आशीष ने बताया कि उन्हें पिछले एक हफ्ते से ब्लैंक कॉल आ रही हैं। फोन करने वाला देर रात तो कभी सुबह सैकड़ों कॉल करता है। कॉल रिसीव करने पर कभी-कभी वह एक सांस में अनगिनत गालियां देता है। कभी-कभी भूत की डरावनी आवाज निकाल कर डरा देता है। कभी किसी कंपनी का टेलीकॉलर कॉन्फ्रेंस में आवाज लगाता है तो कभी कोई कहानी सुनाने लगता है। इतना ही नहीं वह पढ़ाई बंद करने की धमकी देता है। कभी वह संगीत बजाता है तो कभी अलग-अलग आवाजें निकालकर परेशान करता है।

आशीष पर है खुदकुशी का दबाव
तंग आकर आशीष ने फोन करने वाले से पूछा… तुम मुझे क्यों परेशान कर रहे हो भाई? इस पर फोन करने वाले ने कहा कि जब तक तुम आत्महत्या नहीं करोगे, मैं तुम्हें परेशान करता रहूंगा। मामले की शिकायत मां मीना शुक्ला ने नौबस्ता थाने में की है. एडीसीपी डॉ. अनिल कुमार ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद मामले की जांच की जा रही है. कॉल डिटेल मिलते ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

छात्र ने मां से पूछा कि अगर मैं आत्महत्या कर लूं तो क्या होगा?
आशीष की मां ने बताया कि अचानक आशीष खामोश रहने लगा है। खाना-पीना छोड़ दिया है। हमेशा की तरह उसने भी अपनी मां के साथ बाहर जाना बंद कर दिया। इससे मां और नाना सहम गए। प्यार से पूछा कि आशीष को क्या हुआ, अचानक आशीष रो पड़ा। मां से पूछा कि अगर मैं सुसाइड कर लूं तो क्या होगा? इतना सुनते ही उनके पैरों तले जमीन खिसक गई। उसने सारी बात अपनी मां को बताई। इसके बाद मां ने नौबस्ता थाने में शिकायत दर्ज कराई।

कॉल करने वाले ने किया था चैलेंज
मामले की जांच कर रहे थाना प्रभारी सतीश सिंह ने बताया कि किसी के निजी मोबाइल नंबर से कॉल नहीं आ रही है. जांच में हैदराबाद की एक मल्टीनेशनल कंपनी का नंबर सामने आया है। फिलहाल आशीष के मोबाइल से मिले सभी नंबरों को ब्लैक लिस्ट में डाल दिया गया है. आशीष की कॉल डिटेल मांगी गई है। कॉल डिटेल आते ही उत्पीड़क को गिरफ्तार कर कार्रवाई की जाएगी। आशीष की माने तो फोन करने वाले ने चुनौती दी है कि कोई उसे पकड़ नहीं पाएगा।

संपत्ति के एंगल पर भी पुलिस जांच कर रही है
आशीष के नाना सेवानिवृत्त शिक्षक हैं। वे उसके नाना-नानी नहीं हैं, उन्होंने अपने साथ एक रिश्तेदार की बेटी और उसके बच्चे को गोद लिया है। उनके पास रिटायरमेंट का पैसा, कीमती फ्लैट और लाखों की संपत्ति है। पुलिस का मानना ​​है कि संपत्ति को लेकर घर का कोई सदस्य भी आशीष को परेशान कर सकता है। इसलिए इस एंगल से भी जांच की जा रही है।

विभिन्न आवाज़ों को पहचानना मुश्किल
आशीष ने बताया कि फोन करने वाले की आवाज साधारण नहीं है। ऐसा लगता है कि वह एक ऐप की मदद से आवाज बदलकर कॉल करता है। इसके बाद गाली-गलौज के साथ-साथ तरह-तरह से प्रताड़ित करता था।

कानपुर : 100 से ज्यादा कॉल कर आत्महत्या के लिए उकसाया, निकाली डरावनी अवाजें, कहा - अपनी जान दे वरना पीछा नहीं छोडूंगा
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

Must Read

कानपुर : 100 से ज्यादा कॉल कर आत्महत्या के लिए उकसाया, निकाली डरावनी अवाजें, कहा - अपनी जान दे वरना पीछा नहीं छोडूंगा