Home Breaking News आओ राष्ट्रभक्ति के रंग में रंग जाएं, मन में जोश, दिल में...

आओ राष्ट्रभक्ति के रंग में रंग जाएं, मन में जोश, दिल में भारत, और हाथों में हो प्यारा तिरंगा हो- गौरांग राठी

भदोही, – उत्तर प्रदेश के भदोही जिला अधिकारी गौरांग राठी ने गुरुवार को आह्वान किया कि आओ राष्ट्र भक्ति के रंग में रंग जाएं, चलो हर घर तिरंगा फहराएं। जनपद वासियों के मन में जोश, दिल में भारत, और हाथों में हो प्यारा तिरंगा हो।
जिलाधिकारी ने स्वतंत्रता दिवस मनाए जाने के संबंध में दिशा निर्देश देते हुए अपने सम्बोधन में कहा कि आजादी की 76 वीं वर्षगाठ के अवसर पर 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस की अमृत बेला पर हम सभी जनपदवासी अत्यंत अद्भूत पल के गवाह होने जा रहे है।

– Advertisement –


उन्होंने कहा कि राष्ट्र ध्वज हर देशवासी के लिए सम्मान का प्रतीक है। आइएं, हम सभी 15 अगस्त को अपने घरो पर तिरंगा फहराएं और हर घर तिरंगा अभियान में भागीदार बनें।
जिलाधिकारी ने जनमानस को भारतीय ध्वज को फहराने व प्रयोग करने के विषयक सुझाव निर्देश देते हुए बताया कि कैसे फहराएं तिरंगा। छड़ी हो, राड़ हो, या हो पेड़ की डाली, घर पर उपलब्ध चीजों -पिन, क्लिप, रस्सी आदि का इस्तेमाल करके अपने घर पर भी फहराएं तिरंगा। झण्डा फहराते समय ध्यान रखे कि आकाश पर ऊचॉ लहराएं, धरती न छुने पाएं, राष्ट्रीय ध्वज है मान देश का, इसकी छवी धूमिल न होने पाए। उन्होंने बताया कि तिरंगे को घर की बालकनी, दरवाजे, या खिड़की पर फहराएं ऊचॉ। भगवॉ उपर, फिर सफेद, और सबसे नीचे हो हरा। सही क्रम में लहराएं तिरंगा।


उन्होंने बताया कि ध्वज को सम्मानपूर्ण तरीके से ऐसी जगह लगाया जाय , जहां से वह स्पष्ट रूप से दिखाई दे । ध्वज का केसरिया रंग सदैव ऊपर की ओर हो। ध्वज झुका हुआ न हो। फटा या मैला ध्वज न फहराए । किसी दूसरे ध्वज या पताका को राष्ट्रीय ध्वज से ऊंचा या ऊपर नहीं लगाया जायेगा, न ही बराबर में रखा जायेगा। ध्वज पर कुछ भी लिखा या छपा नहीं होना चाहिए। झण्डे को किसी वस्तु को प्राप्त करने, देने, पकड़ने अथवा ले जाने के पात्र के रूप में प्रयोग नहीं किया जायेगा।

झण्डे को जान बूझकर जमीन अथवा फर्श को छूने अथवा पानी में घसीटने नहीं दिया जायेगा। झण्डे का प्रयोग किसी भवन में परदा लगाने के लिए नहीं किया जायेगा। झण्डे को किसी अन्य झण्डे अथवा झण्डों के साथ एक ही ध्वज दण्ड से नहीं फहराया जाय। जब ध्वज फट जाये या मैला हो जाये तो उसे एकान्त में दफनाकर पूरी तरह नष्ट किया जाना चाहिए। ऐसा करते समय फोटो ग्राफी या विडियों ग्राफी न करवाई जाय।


उन्होंने सलाह दी कि हर घर तिंरगा अभियान के अंतर्गत 15 अगस्त झण्डारोहण का समय बीत जाने के बाद उसे सम्मानपूर्वक उतार कर तहपूर्वक अपारदर्शी थैले में आलमारी के सबसे ऊपर वाले खाने में रखा जाना चाहिये। ध्वज के ऊपर अन्य कोई सामान नही रखा जाना चाहिये । हर घर पर झण्डा विधिवत तरीके से लगाया जाना चाहिए। झण्डे को यदि सरकारी परिसर में फहराया जाता है तो सूर्योदय के उपरान्त ध्वजारोहण किया जाना चाहिए तथा सूर्यास्त के साथ ही सम्मान के साथ इसे उतारना चाहिए।

.

News Source: https://royalbulletin.in/lets-get-colored-in-the-colors-of-patriotism-enthusiasm-in-the-mind/78290

आओ राष्ट्रभक्ति के रंग में रंग जाएं, मन में जोश, दिल में भारत, और हाथों में हो प्यारा तिरंगा हो- गौरांग राठी
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

Must Read

आओ राष्ट्रभक्ति के रंग में रंग जाएं, मन में जोश, दिल में भारत, और हाथों में हो प्यारा तिरंगा हो- गौरांग राठी