Home Breaking News मुजफ्फरनगर में रीति रिवाज के साथ कराई कई 77 जोड़ों की शादी

मुजफ्फरनगर में रीति रिवाज के साथ कराई कई 77 जोड़ों की शादी

मुजफ्फरनगर। जिले के जिला पंचायत प्रांगण में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह समारोह में 77 जोड़ों की विधि विधान व रीति रिवाज के साथ शादी संपन्न कराई गई। इसमें 48 जोड़े मुस्लिम समाज से थे और 29 जोड़े हिंदू समाज के थे।

जिला पंचायत अध्यक्ष वीरपाल निरवाल ने बताया कि पिछले वर्ष भी हमने इतने ही जोड़ों की सामूहिक शादी कराई थी। आज मुख्यमंत्र सामूहिक विवाह समारोह योजना के अंतर्गत 77 जोड़ों की सामूहिक शादी कराई गई है। जिसमें 48 जोड़े मुस्लिम समाज के हैं। और 29 जोड़ें  हिंदु समाज है। सभी जोड़ों की विधि विधान और रीति-रिवाज के साथ शादी कराई गई है। जिला पंचायत अध्यक्ष डॉक्टर वीरपाल निर्वाल ने कहा कि सरकार सबका साथ सबका विकास नारे के साथ कार्य कर रही हैं। सभी जोड़ों को 51 हजार रुपए की धनराशि दी जा रही हैं जिसमे घरेलू यूज का सामान भी दिया जा रहा है। और 35 हजार रु उनके खाते में दिए जा रहे हैं।

जिला पंचायत अध्यक्ष वीरपाल निर्वाल ने नवविवाहित जोड़ों को कहा की यह शादी कानूनी मान्य है। इसका सर्टिफिकेट भी दिया जा रहा है। शादी होने के बाद कुछ दिन बाद पति पत्नी के बीच में मनमुटाव होने लगता है। अगर ऐसा कुछ हुआ तो हम सभी वधू पक्ष की तरफ से गवाही देंगे यह हमने इसलिए कहा है। ताकि दोनों के बीच एक भय बना रहे और दोनों परिवार अच्छी तरह से जीवन व्यतीत करें।

रितेश कुमार ने अवगत कराया कि उनकी यह शादी विधि विधान से की गई है और मुस्लिमों की शादी उनके धार्मिक रिवाज के अनुसार की गई है उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की यह योजना काबिले तारीफ है क्योंकि आज के समय में समाज को एक सूत्र में पिरोने का कार्य योजना कर रही है उन्होंने कहा कि शादियों में करोड़ों और लाखों रुपए खर्च किए जाते हैं। तो यहां सिर्फ 51000 में ही विवहा संपन्न हो रहा है। रितेश की दुल्हन मधु ने बताया कि उनका विवहा हिंदू धर्म के रीति रिवाज के अनुसार हुआ है। और सरकार की इस योजना की सराहना की।

.

News Source: https://royalbulletin.in/many-77-couples-got-married-with-customs-in-muzaffarnagar/26126

मुजफ्फरनगर में रीति रिवाज के साथ कराई कई 77 जोड़ों की शादी
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

Must Read

मुजफ्फरनगर में रीति रिवाज के साथ कराई कई 77 जोड़ों की शादी