Home Breaking News विधवा से शादी…पर वो आदित्य नहीं आरिफ था! रिटायर्ड IAS की बेटी भी ‘लव जिहाद’ का शिकार हुई ?

विधवा से शादी…पर वो आदित्य नहीं आरिफ था! रिटायर्ड IAS की बेटी भी ‘लव जिहाद’ का शिकार हुई ?

0
विधवा से शादी…पर वो आदित्य नहीं आरिफ था! रिटायर्ड IAS की बेटी भी ‘लव जिहाद’ का शिकार हुई ?

उत्तर प्रदेश के आगरा में कथित लव जिहाद का मामला सामने आया है। 11 साल पहले आरोपी आरिफ ने एक विधवा से शादी की थी। आरोप है कि उसने आदित्य के रूप में अपनी पहचान बताई थी।The Hadiya case and the issue of 'Love Jihad' - Clat Possible

  1. यूपी के आगरा में कथित लव जिहाद का एक और मामला आया सामने
  2. रिटायर्ड आईएएस अफसर की बेटी से पहचान छिपाकर दोस्ती का आरोप
  3. 2010 में शादी की , और कुछ साल बाद धर्मांतरण के लिए बनाया दबाव
  4. आरोपी को गिरफ्तार किया, धर्मांतरण विरोधी कानून के तहत दर्ज हुआ मामला

आदित्य बनकर उस व्यक्ति ने पहले महिला से दोस्ती बढ़ाई। फिर कुछ दिन बाद शादी भी कर ली। कुछ साल बीते। तभी एक दिन पता चला कि जो आदित्य है वह तो असल में आरिफ है । आगरा शहर जो की प्यार मोहब्बत की नगरी है में लव जिहाद का एक कथित मामला सामने आया है। पुलिस ने आरोपी शख्स को गिरफ्तार कर लिया है। आइए पूरी कहानी विस्तार से आपको बताते हैं।

दरअसल आरोप यह है कि लखनऊ में एक रिटायर्ड आईएएस अधिकारी की बेटी अब लव जिहाद का ‘शिकार’ हो गई है। आगरा पुलिस ने सोमवार को बताया कि लखनऊ के एक लकड़ी व्यपारी आरिफ हाशमी ने एक समारोह में अपने आप को आदित्य बताकर पीड़ित महिला के साथ मुलाकात की थी। पुलिस के मुताबिक, उसने जल्द ही महिला से दोस्ती भी कर ली थी और जब उनका रिश्ता आगे बढ़ा तो दोनों ने 2010 में शादी कर ली। महिला विधवा थी और उसे ‘आदित्य’ के इरादों पर बिलकुल शक नहीं था।

पुलिस ने कहा कि शादी के कुछ साल बाद महिला को पुरुष की असली पहचान के बारे में पता चला और फिर उस व्यक्ति ने उसे इस्लाम धर्म में बदलने के लिए उसे को मजबूर करना शुरू कर दिया। उसने इस के किये इंकार किया तो वह उसको प्रताड़ित और ब्लैकमेल करने लगा। वह महिला के पहले पति के होटल का भी इस्तेमाल उसके साथ मारपीट करने के लिए करता था। इसके बाद महिला ने आरोपी के खिलाफ मारपीट, हत्या का प्रयास, दुष्कर्म, अप्राकृतिक कृत्य, लूटपाट, धोखाधड़ी और अवैध धर्मांतरण जैसी गंभीर धाराओं के तहत मामला दर्ज कराया।

आगरा के पुलिस अधीक्षक (एसपी) शहर बोत्रे रोहन प्रमोद ने कहा, ‘हमने आईपीसी की संबंधित धाराओं और धर्मांतरण विरोधी कानून के तहत मामला दर्ज किया है। आरोपी को रविवार को गिरफ्तार कर लिया गया और आगे की जांच जारी है।’ पुलिस को उसकी तस्वीरें भी मिली हैं जिसमें वह समाजवादी पार्टी और आम आदमी पार्टी (AAP) के कई बड़े नेताओं के साथ नजर आ रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here