Tuesday, January 31, 2023
No menu items!

मेरठ : अब स्कूल यूनिफॉर्म और किताबें खरीदने का दबाव नहीं बना पाएंगे, शिक्षा विभाग की स्कूलों पर सख्ती, स्टेशनरी, यूनिफॉर्म बेची तो होगी कार्रवाई

Must Read

Telangana Government Invites Aspiring Entrepreneurs to Encourage Innovation in E-mobility Sector

With an aim to accelerate innovation in areas of connected, autonomous, shared and electric mobility, the Government of Telangana...

ऑफिस से घर लौट रही महिला की बीच सड़क पर गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

नई दिल्ली। बाहरी दिल्ली के पश्चिम विहार इलाके में बीती रात एक महिला की गोली मारकर हत्या कर...
The Sabera Desk
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera
मेरठ : अब स्कूल यूनिफॉर्म और किताबें खरीदने का दबाव नहीं बना पाएंगे, शिक्षा विभाग की स्कूलों पर सख्ती, स्टेशनरी, यूनिफॉर्म बेची तो होगी कार्रवाई

मेरठ समेत पूरे उत्तर प्रदेश के स्कूल छात्रों पर अपनी पसंद की किसी भी दुकान से स्टेशनरी, यूनिफॉर्म खरीदने का दबाव नहीं बना सकेंगे। अगर कोई शिक्षण संस्थान ऐसा करता है तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी और उसकी मान्यता को भी खतरा हो सकता है। मेरठ शिक्षा विभाग की ओर से सभी स्कूलों को स्पष्ट निर्देश जारी कर दिया गया है कि कोई भी स्कूल बच्चों पर इस तरह का दबाव न बनाएं।Read Also:-Bharat Series Number Plates : भारत सीरीज वाहन नंबर प्लेट्स क्या है? आइये देखें आवेदन कैसे करें

बच्चे जहां से चाहते हैं वहां से ले किताबें, यूनिफॉर्म
उत्तर प्रदेश सरकार ने आदेश दिया है कि छात्र अपनी मर्जी से किसी भी दुकान से किताबें, स्टेशनरी और यूनिफॉर्म ले सकते हैं। स्कूल केवल सिलेबस उपलब्ध कराएं। बच्चा जहां चाहे वहां से किताबें, यूनिफॉर्म ले सकता है। यह आदेश मेरठ डीआईओएस गिरजेश कुमार चौधरी ने सीबीएसई, आईसीएसई और यूपी बोर्ड के सभी स्कूलों को जारी किया है। कोई भी स्कूल छात्र पर किसी खास दुकान से किताबें खरीदने का दबाव नहीं बना सकता।

स्कूल में दुकान से किताबें लेने की कोई बाध्यता नहीं है
अंदर कई स्कूलों की अपनी दुकानें हैं। कुछ स्कूलों ने परिसर में ठेके पर दुकानें दी हैं तो कहीं किराए पर दुकान चल रही है। कुछ स्कूल अंदर अपनी दुकानें चला रहे हैं। सरकार के सख्त आदेश हैं कि बच्चे को स्कूल में चल रही दुकान से ही किताब, कॉपी, यूनिफॉर्म लेनी होगी, इसके लिए न तो दबाव बनाया जाएगा और न ही स्कूल बच्चों और परिवार वालों को इसके लिए मजबूर करेगा। अगर इस तरह से किसी बच्चे की शिकायत आती है तो संबंधित स्कूल के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

- Advertisement -मेरठ : अब स्कूल यूनिफॉर्म और किताबें खरीदने का दबाव नहीं बना पाएंगे, शिक्षा विभाग की स्कूलों पर सख्ती, स्टेशनरी, यूनिफॉर्म बेची तो होगी कार्रवाई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -मेरठ : अब स्कूल यूनिफॉर्म और किताबें खरीदने का दबाव नहीं बना पाएंगे, शिक्षा विभाग की स्कूलों पर सख्ती, स्टेशनरी, यूनिफॉर्म बेची तो होगी कार्रवाई
Latest News

Telangana Government Invites Aspiring Entrepreneurs to Encourage Innovation in E-mobility Sector

With an aim to accelerate innovation in areas of connected, autonomous, shared and electric mobility, the Government of Telangana...

ऑफिस से घर लौट रही महिला की बीच सड़क पर गोली मारकर हत्या, जांच में जुटी पुलिस

नई दिल्ली। बाहरी दिल्ली के पश्चिम विहार इलाके में बीती रात एक महिला की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतका की...

हिसार में सोशल मीडिया पर हथियार के साथ फोटो पोस्ट करने पर सात के खिलाफ केस दर्ज

हिसार। सोशल मीडिया पर हथियार के साथ फोटो डालने वालों पर पुलिस नजर रख रही है। पुलिस ने सोशल मीडिया पर हथियार...

फेसबुक आपके फोन की बैटरी खत्म कर सकता है, पूर्व कर्मचारी का दावा

एडगर Cervantes / Android प्राधिकरणजब Facebook की बात आती है, तो विवादों की कोई कमी नहीं है, स्मार्टफ़ोन पर आपके व्यक्तिगत डेटा की कटाई...
- Advertisement -मेरठ : अब स्कूल यूनिफॉर्म और किताबें खरीदने का दबाव नहीं बना पाएंगे, शिक्षा विभाग की स्कूलों पर सख्ती, स्टेशनरी, यूनिफॉर्म बेची तो होगी कार्रवाई

More Articles Like This

- Advertisement -मेरठ : अब स्कूल यूनिफॉर्म और किताबें खरीदने का दबाव नहीं बना पाएंगे, शिक्षा विभाग की स्कूलों पर सख्ती, स्टेशनरी, यूनिफॉर्म बेची तो होगी कार्रवाई