Thursday, February 9, 2023
No menu items!

अब उत्तर प्रदेश में विशेषज्ञों के हाथ में होगी वाहनों की रफ्तार, योगी सरकार का फैसला

Must Read

नोएडा में 12 साल की बच्ची लापता, पुलिस तलाश में जुटी

नोएडा। नोएडा के सेक्टर 113 थाने के सेक्टर 115 से एक 12 साल की बच्ची लापता हो गई...

मोदी-अडानी भाई-भाई के नारों के बीच मोदी बोले- तुम जो मिट्टी फेंकोगे उसमें हम कमल खिलाएंगे

नई दिल्ली - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब...
The Sabera Desk
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera
अब उत्तर प्रदेश में विशेषज्ञों के हाथ में होगी वाहनों की रफ्तार, योगी सरकार का फैसला

योगी सरकार अपने दूसरे कार्यकाल में प्रदेश में चल रहे वाहनों की गति को कुशल और कुशल हाथों में सौंपने की बड़ी तैयारी कर रही है। बरेली, झांसी और अलीगढ़ में ड्राइविंग टेस्टिंग एंड ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट (डीटीटीआई) खोलने का लक्ष्य परिवहन विभाग को सौंपा गया है। इन केंद्रों पर परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवारों को ही ड्राइविंग लाइसेंस जारी किया जाएगा। परीक्षा पास नहीं करने वालों को बीच में ही रोक दिया जाएगा। संस्थान में वाहन चलाने के प्रशिक्षण के दौरान यातायात नियमों की पूरी जानकारी दी जाएगी। व्यवस्थित और प्रभावी प्रशिक्षण की पहल से राज्य की सड़कों पर होने वाली दुर्घटनाओं में काफी कमी आएगी।Read Also:-काम की खबर: आधार कार्ड्स से जुड़ा बड़ा अपडेट! आ गया है नए तरह का आधार कार्ड, जानिए आप कैसे ऑर्डर कर सकते हैं और क्या है इसमें नया?

राज्य के तीन बड़े शहरों में खुलने जा रहे ये ड्राइविंग टेस्टिंग एंड ड्राइविंग ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट पहली बार मैनुअल ड्राइविंग टेस्टिंग के साथ-साथ सेंसर्ड ऑटोमेटिक ड्राइविंग टेस्ट तकनीक तैयार करेंगे। इस ट्रैक पर लगे सेंसर टेस्ट देते समय परीक्षार्थी की गलती को तुरंत पकड़ लेंगे। लोगों को गलतियों को सुधारने और कुशल ड्राइविंग के गुर सीखने का अवसर मिलेगा।

सड़क सुरक्षा भी प्रभावी हो जाएगी यदि वाहन चालक यातायात नियमों से पूरी तरह अवगत हों। राज्य में परिवहन सेवाओं में अभूतपूर्व सुधार लाने के साथ ही राज्य सरकार पहली बार एक ही स्थान पर ड्राइविंग, परीक्षण और प्रशिक्षण की व्यवस्था करने जा रही है। इससे जिन लोगों के पास ड्राइविंग लाइसेंस है उन्हें भी सहूलियत मिलेगी। टेस्ट किसी दूसरी जगह देने और लाईसेंस के लिए तीसरी जगह दौड़-भाग से उनको राहत मिल जाएगी।

गौरतलब है कि योगी सरकार सड़क सुरक्षा को प्रभावी बनाने के लिए लगातार प्रयास कर रही है। पिछले कार्यकाल में उन्होंने सड़क हादसों में होने वाली मौतों को रोकने के लिए सड़क सुरक्षा माह की शुरुआत की थी। जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करें। इनमें परिवहन, स्वास्थ्य, स्कूल, कॉलेज और सामाजिक संस्थान शामिल थे।

whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

- Advertisement -अब उत्तर प्रदेश में विशेषज्ञों के हाथ में होगी वाहनों की रफ्तार, योगी सरकार का फैसला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -अब उत्तर प्रदेश में विशेषज्ञों के हाथ में होगी वाहनों की रफ्तार, योगी सरकार का फैसला
Latest News

नोएडा में 12 साल की बच्ची लापता, पुलिस तलाश में जुटी

नोएडा। नोएडा के सेक्टर 113 थाने के सेक्टर 115 से एक 12 साल की बच्ची लापता हो गई...

मोदी-अडानी भाई-भाई के नारों के बीच मोदी बोले- तुम जो मिट्टी फेंकोगे उसमें हम कमल खिलाएंगे

नई दिल्ली - प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुए कहा कि 'कीचड़...

नोएडा में ई-रिक्शा चोरी कर ले गए चोर,जांच में जुटी पुलिस

  नोएडा। नोएडा में थाना सेक्टर 113 क्षेत्र के सोरखा गांव के पास से अज्ञात चोरों ने एक व्यक्ति का ऑटो रिक्शा चोरी कर लिया।...

Fullife Healthcare is Now Great Place To Work-Certified

Fullife Healthcare has been Great Place To Work® Certified™ in India (from December 2022 to December 2023)! This recognition is based on the experience...
- Advertisement -अब उत्तर प्रदेश में विशेषज्ञों के हाथ में होगी वाहनों की रफ्तार, योगी सरकार का फैसला

More Articles Like This

- Advertisement -अब उत्तर प्रदेश में विशेषज्ञों के हाथ में होगी वाहनों की रफ्तार, योगी सरकार का फैसला