Home Breaking News अब भारत (BH-Series) में होगा गाड़ी का रजिस्ट्रेशन, किसी भी राज्य में...

अब भारत (BH-Series) में होगा गाड़ी का रजिस्ट्रेशन, किसी भी राज्य में अपनी गाड़ी से सफर करना होगा आसान

अब भारत (BH-Series) में होगा गाड़ी का रजिस्ट्रेशन, किसी भी राज्य में अपनी गाड़ी से सफर करना होगा आसान

अब वाहन धारक अपने वाहनों को ‘BH-Series’का नंबर लगा सकेंगे। इस सीरीज के तहत रजिस्ट्रेशन कराने पर वाहन को अलग अलग राज्यों में जाने पर वहां रजिस्ट्रेशन कराने की जरूरतन हीं पड़ेगी।

whatsapp gif

अगर आप अपने वाहन से एक या एक से ज्यादा राज्यों में बार बार सफर करते हैं तो आपको संबंधित RTO(Regional transport office) में जाकर अपने वाहन को रजिस्टर कराने की जरूरत नहीं पड़ेगी। दरअसर भारत सरकार ने वाहन रजिस्ट्रेशन के लिए राष्ट्रीय रजिस्ट्रेशन की व्यवस्था कर दी है। अब वाहन धारक अपने वाहनों को ‘BH-Series’का नंबर लगा सकेंगे। इस सीरीज के तहत रजिस्ट्रेशन कराने पर वाहन को अलग अलग राज्यों में जाने पर वहां रजिस्ट्रेशन कराने की जरूरतन हीं पड़ेगी।Read Also:-आईआरसीटीसी(IRCTC) की खास सेवा, ट्रेन टिकट कैंसिल कराने पर तुरंत बैंक खाते में लौटाया जाएगा पैसा

advt

कमर्शियल गाड़ियों को होगा बड़ा लाभ
ये नई व्यवस्था दरअसल कमर्शियल वाहन चालकों के लिए भी बड़ी सुविधा साबित होगी जो अलग अलग राज्यों के बीच व्यापार करते हैं। BH सिरीज उन्हें देश व्यापारी मान्यता प्रदान करेगा। साथ ही ये व्यवस्था उन निजी वाहन चालकों के लिए भी बड़ी कारगर साबित होगी जिन्हें दूसरे राज्य में यातो अपनी वाहन शिफ्ट करते रहना होता या वे आना जाना लगातार करते रहते हैं। इस रजिस्ट्रेशन के बाद वाहन को अलग अलग राज्यों में जाकर रजिस्ट्रेशन कराने की जरूरत खत्म हो जाएगी।

क्या है BH-Series
सरकार ने शुरुआत में ही साफ कर दिया है कि BH-Series रजिस्ट्रेशन वाहन धारक की मर्जी और विकल्प पर निर्भर करेगा। इसका मतलब है कि ये अनिवार्य नहीं है कि इसे किया ही जाए। भारत सिरीज (BH-Series) रजिस्ट्रेशन मार्क का प्रारूप जो सरकार द्वारा पेश किया गया है वह ‘YY BH #### XX’ होगा। सरकार के मुताबिक ‘YY’ पहले पंजीकरण के वर्ष को दर्शाता है, जबकि ‘BH’ भारत श्रृंखला के लिए कोड होगा। इसी तरह, ‘####’ 0000 से 9999 तक एक रैंडम नंबर होंगे, और ‘XX’ अक्षर (AA से ZZ) के बीच होगा।

ortho

किन लोगों के लिए फायदेमंद
केंद्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के मुताबिक अगर कोई व्यक्ति अपने वाहन को एक राज्य से दूसरे राज्य में लेकर जाता है तो उसे 1 साल के अंदर अपने वाहन को री-रजिस्ट्रेशन कराना पड़ता है। देश में बड़े पैमान पर लोग नौकरी और व्यापारा के सिलसिले में एक राज्य से दूसरे राज्यों में सफर करते हैं। खास तौर से बड़े मेट्रोपोलिटन शहरों में तो बाहरी राज्यों से आनेवाले लोगों की भरमार होती है। ऐसे में कई बार ये कर्मचारी या व्यापारी स्थानीय RTO के कड़े नियमों के चलते अपने वाहन उन राज्यों में ले जाने से कतराते हैं। ऐसे में BH-Series की नई व्यवस्था ऐसे लोगों के लिए बड़े काम की साबित होनेवाली है। लोगों की सुविधा देने के लिए मंत्रालय की ओर से 26 अगस्त एक नोटिफिकेशन जारी करनए वाहन का रजिस्ट्रेशन भारत सीरीज में कराया जा सकेगा।

devanant hospital

नई सीरीज किसके लिए और कौन कर सकता है अप्लाई
इस नई BH सीरीज के शुरू हो जाने के बाद सबसे अधिक राहत उन लोगों को मिलेगी जिनका ट्रांसफर होता रहता है और उन्हें अपने साथ गाड़ी ले जानी होती है। वहां दोबारा रजिस्ट्रेशन की दिक्कत रहती है। सड़क परिवहन मंत्रालय ने रक्षा कर्मियों, केंद्र और राज्य सरकारों के कर्मचारियों, सार्वजनिक उपक्रमों और निजी क्षेत्र की कंपनियों और संगठनों के स्वामित्व वाले निजी वाहनों के पंजीकरण के लिए इस नई सीरीज की शुरुआत की है। इस नई सीरीज के तहत जिनके ऑफिस चार या अधिक राज्यों में है उनके कर्मचारी अप्लाई कर सकते हैं। सरकारी और प्राइवेट दोनों ही जगहों पर काम करने वाले लोग इसके लिए अप्लाई कर सकते हैं। यह योजना स्वैच्छिक है अनिवार्य नहीं है।

किस रंग में होगा नंबर प्लेट, कैसे होगी नंबर की शुरुआत
नंबर प्लेट काले और सफेद रंग का होगा। सफेद बैकग्राउंड पर काले रंग से नंबर अंकित होगा। इसके साथ ही BH से इसकी शुरुआत होगी और इसके बाद रजिस्ट्रेश के वर्ष का अंतिम दो अंक और फिर आगे का नंबर होगा।

इस खास सीरीज के नंबर के लिए कितना टैक्स और कितने साल के लिए
इसमें वाहन मालिकों के पास विकल्प होगा। उन्हें दो साल या दो के गुणकों में रोड टैक्स का भुगतान करना होगा। आरटीओ के पास जाने की जरूरत नहीं है, पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। BH सीरीज के लिए मंत्रालय ने 10 लाख रुपये तक की लागत वाले वाहनों के लिए 8%, 10-20 लाख रुपये की लागत वाले वाहनों के लिए 10% और 20 लाख रुपये से अधिक की लागत वाले वाहनों के लिए 12% रोड टैक्स तय किया है। डीजल वाहनों के लिए 2% अतिरिक्त शुल्क और इलेक्ट्रिक वाहनों पर 2% कम कर लगाया जाएगा।

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

अब भारत (BH-Series) में होगा गाड़ी का रजिस्ट्रेशन, किसी भी राज्य में अपनी गाड़ी से सफर करना होगा आसान
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

Must Read

अब भारत (BH-Series) में होगा गाड़ी का रजिस्ट्रेशन, किसी भी राज्य में अपनी गाड़ी से सफर करना होगा आसान