Home Breaking News डिवाइडर निर्माण में 61 लाख की बर्बादी पर सवाल

डिवाइडर निर्माण में 61 लाख की बर्बादी पर सवाल

कादराबाद से परतापुर तिराहे तक रैपिड के एलाइनमेंट के स्थान पर लोक निर्माण विभाग ने 61.07 लाख रुपये से डिवाइडर बना दिए। लोनिवि निर्माण विभाग के प्रांतीय खंड के अधिशासी अभियंता ने चहेते ठेकेदार को गलत हैड बुक कर शासन से प्राप्त किश्त से अधिक का भुगतान कर दिया।

कैंट विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल ने अधिशासी अभियंता पर आरोप लगाते हुए मुख्यमंत्री, उप मुख्यमंत्री व लोनिवि के प्रमुख सचिव से कार्रवाई की मांग की है। कैंट विधायक का कहना है कि विशेष मरम्मत 2019-20 में स्वीकृत दिल्ली-नीतिपास मार्ग के चैनेज 48.00 से 52.50 के बीच 61.07 लाख रुपये से डिवाइडर बनाया गया। पिछले आठ माह से यह सड़क आरआरटीएस को दिए जाने की कार्रवाई चल रही थी।

Must Read

डिवाइडर निर्माण में 61 लाख की बर्बादी पर सवाल