Home Breaking News आप को ऐसा काम करने पर आरबीआई (RBI) देगा 40 लाख रुपये...

आप को ऐसा काम करने पर आरबीआई (RBI) देगा 40 लाख रुपये का इनाम, 15 नवंबर से शुरू होगा हैकाथॉन के लिए रजिस्ट्रेशन

आप को ऐसा काम करने पर आरबीआई (RBI) देगा 40 लाख रुपये का इनाम, 15 नवंबर से शुरू होगा हैकाथॉन के लिए रजिस्ट्रेशनआप को ऐसा काम करने पर आरबीआई (RBI) देगा 40 लाख रुपये का इनाम, 15 नवंबर से शुरू होगा हैकाथॉन के लिए रजिस्ट्रेशन

यदि आप डिजिटल भुगतान करते हैं और इसमें गलती पहचानने और सुधारने की हिम्मत रखते हैं, तो आप 40 लाख रुपये जीत सकते हैं। यह कोई लॉटरी नहीं है बल्कि आपकी प्रतिभा के लिए एक इनाम है और आरबीआई द्वारा दिया जाएगा। दरअसल, भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) उपभोक्ताओं के लिए डिजिटल भुगतान को अधिक सुरक्षित और सुविधाजनक बनाने के उद्देश्य से अपना पहला वैश्विक हैकथॉन आयोजित करने जा रहा है।Read Also:-उत्तर प्रदेश सरकार का बड़ा फैसला, जानिए किन-किन घरों की होगी फ्री में रजिस्ट्री, फीस नहीं लगाई जाएगी

क्या है हार्बिंजर 2021
आरबीआई ने मंगलवार को इस हैकथॉन की घोषणा करते हुए कहा कि इसकी थीम डिजिटल पेमेंट को और चुस्त बनाने की है। हार्बिंजर 2021 नाम के इस हैकथॉन के लिए रजिस्ट्रेशन 15 नवंबर से शुरू होगा। केंद्रीय बैंक ने कहा कि हैकाथॉन के प्रतिभागियों को डिजिटल भुगतान को और अधिक सुरक्षित बनाने के साथ-साथ वंचितों के लिए डिजिटल भुगतान को सुलभ बनाने, भुगतान अनुभव को सरल बनाने और बेहतर बनाने से संबंधित मुद्दों की पहचान करने के लिए कहा जाएगा। समाधान प्रस्तुत करना होगा।Shudh bharat

ऐसे होगा विजेता का चयन
आरबीआई ने एक बयान में कहा, “हरबिंजर 2021′ का हिस्सा बनने से प्रतिभागियों को उद्योग के विशेषज्ञों से मार्गदर्शन लेने और अपने अभिनव समाधान दिखाने का मौका मिलेगा।” जूरी प्रत्येक श्रेणी में विजेताओं का चयन करेगी। प्रथम स्थान प्राप्त करने वाले को 40 लाख रुपये जबकि द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाले को 20 लाख रुपये का पुरस्कार दिया जाएगा।

महामारी की अनिश्चितता से नकदी की मांग बढ़ी
COVID-19 महामारी के कारण अनिश्चितताओं के कारण, न केवल भारत में बल्कि पूरे विश्व में करेंसी नोटों यानी नकदी की मांग में वृद्धि हुई है। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। हालांकि, सूत्रों ने इस आलोचना को खारिज कर दिया कि नोटबंदी अर्थव्यवस्था में तरलता को कम करने में विफल रही है।

सरकारी सूत्रों ने कहा कि नोटबंदी के बाद डिजिटल भुगतान प्रणाली का विकास अंततः नकदी पर निर्भरता को कम करेगा। आधिकारिक आंकड़े प्लास्टिक कार्ड, नेट बैंकिंग और यूनिफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) सहित विभिन्न तरीकों से डिजिटल भुगतान में उछाल की ओर इशारा करते हैं। भारतीय राष्ट्रीय भुगतान निगम (एनपीसीआई) की यूपीआई प्रणाली देश में भुगतान के एक प्रमुख माध्यम के रूप में तेजी से उभर रही है। UPI को 2016 में लॉन्च किया गया था और इसके माध्यम से लेनदेन महीने दर महीने बढ़ रहे हैं।news shorts

$100 बिलियन से अधिक का लेन-देन
अक्टूबर 2021 में, मूल्य के संदर्भ में लेनदेन 7.71 लाख करोड़ रुपये या 100 बिलियन डॉलर से अधिक था। अक्टूबर में UPI के जरिए कुल 421 करोड़ ट्रांजेक्शन किए गए। सूत्रों ने यह भी बताया कि अमेरिका में भी, 2020 के अंत तक कुल नकद लेनदेन 2.07 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंच गया, एक साल पहले की तुलना में 16 प्रतिशत की वृद्धि और 1945 के बाद से एक साल की सबसे बड़ी प्रतिशत वृद्धि।

सूत्रों ने कहा कि आर्थिक अनिश्चितता की अवधि के दौरान नकदी की मांग हमेशा बढ़ रही है और चूंकि नकदी संपत्ति का सबसे तरल रूप है, इसलिए भारी अनिश्चितता की अवधि के दौरान तरलता बढ़ने की उम्मीद है। महामारी के दौरान नकदी की मांग में वृद्धि एक विश्वव्यापी घटना रही है।

advt.

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

आप को ऐसा काम करने पर आरबीआई (RBI) देगा 40 लाख रुपये का इनाम, 15 नवंबर से शुरू होगा हैकाथॉन के लिए रजिस्ट्रेशन
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

Must Read

आप को ऐसा काम करने पर आरबीआई (RBI) देगा 40 लाख रुपये का इनाम, 15 नवंबर से शुरू होगा हैकाथॉन के लिए रजिस्ट्रेशन