Home Breaking News पुस्तकों की ज्ञान, सभ्यता, संस्कृति के संरक्षण व प्रचार प्रसार में अहम...

पुस्तकों की ज्ञान, सभ्यता, संस्कृति के संरक्षण व प्रचार प्रसार में अहम भूमिका: शीतल

सहारनपुर। विश्व पुस्तक दिवस पर व्यापारी प्रतिनिधि नगर मजिस्ट्रेट गजेन्द्र सिंह व पुलिस अधीक्षक नगर अभियमन्यु मांगलिक से उनके कार्यालय में मिले और उन्हें पुस्तक भेंट करते हुए कहा कि पुस्तकें आज हमारे जीवन से अलग होती जा रही है। हमें पुस्तकों को अपना मित्र अवश्य बनाना चाहिए।

– Advertisement –

उ.प्र.उद्योग व्यापार मण्डल से जुड़े व्यापारियों की एक बैठक रेलवे रोड स्थित व्यापार मण्डल कार्यालय पर संपन्न हुयी। बैठक को सम्बोधित करते हुए व्यापार मण्डल के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व जिलाध्यक्ष शीतल टण्डन ने कहा कि पुस्तकें मनुष्य की सबसे अच्छी मित्र होती हैं तथा इससे ज्ञान अर्जन तथा मार्गदर्शन करने एवं परामर्श देने में विशेष भूमिका निभाती है।

साथ ही पुस्तकें मनुष्य के मानसिक, सामाजिक, सांस्कृतिक, नैतिक, चारित्रिक, धार्मिक एवं व्यवयायिक विकास में सहायक होती है तथा किसी भी देश व सभी प्रकार के ज्ञान, सभ्यता, संस्कृति के संरक्षण व प्रचार प्रसार में पुस्तकें सहायक होती है। उन्होंने कहा कि पुस्तक भंेट करने की परम्परा मध्यकाल से चल रही है और विश्व के महान लेखक विलियम शेक्सपीयर व अन्य लेखकों की स्मृति में विश्व पुस्तक तथा कापी राइट दिवस का आयोजन की शुरूआत की गयी। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि विलियिम शेक्सीपीयर की जन्म तथा निधन की तिथि भी 23 अप्रैल थी।

टण्डन ने कहा कि दैनिक समाचार पत्रों में विभिन्न जानकारियां हमें पढ़ने को मिलती है और वे समाचार पत्र को दैनिक पुस्तक के रूप में देखते हैं। हालांकि इण्टरनेट के बढ़ते प्रयोग के कारण अब पुस्तकों के इंटरनेट संस्करण भी उपलब्ध होने लगे हैं, इसके बावजूद भी दुनिया की सभी भाषाओं मेें करोड़ों पुस्तकंे उपलब्ध हैं, जिसके अंतर्गत विज्ञान, इतिहास, प्रौद्योगिकी, कम्प्यूटर, संचार, व्यापार, उद्योग, खेल कृषि, शिक्षा, स्वास्थ्य, मनोरंजन, फिल्म, भूगोल, राजनीति, भाषा, साहित्य, मनोविज्ञान, दर्शनशास्त्र,पर्यावरण इत्यादि जिस विषय पर भी पाठक पुस्तक चाहता हैं आसानी से उपलब्ध हो जाती हैं उन्होंने कहा कि पुस्तकें मनुष्य की सच्ची मित्र होती हैं, जिस प्रकार सच्चा साथी मनुष्य की सहायता करता है, उसी प्रकार पुस्तकें मनुष्य के लिए हमेशा लाभप्रद होती हैं।

टण्डन ने उनके द्वारा संकलित पुस्तक महापुरूषों के ‘अनमोल वचन’ भी बैठक में उपस्थित सदस्यों को भेंट किये गये। इसके पश्चात जिलाध्यक्ष शीतल टण्डन व जिला संयोजक कर्नल संजय मिडढा ने एसपी सिटी अभिमन्यु मांगलिक व सिटी मजिस्टेªट गजेन्द्र कुमार को उनके कार्यालय में पुस्तक भेंट कर शुभकामनाएं दी। दोनों अधिकारियों द्वारा व्यापारी प्रतिनिधियों के पुस्तकों के प्रति प्रेम की सराहना की गयी। इस अवसर पर जिला महामंत्री रमेश अरोडा, जिला कोषाध्यक्ष राजीव अग्रवाल, मेजर एस.के.सूरी, कर्नल संजय मिडढा, अभिषेक भाटिया, संजीव सचदेवा आदि व्यापारी प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

.

News Source: https://royalbulletin.in/sheetal-plays-an-important-role-in-the-preservation-and-dissemination-of-knowledge-civilization-and-culture-of-books/38582

पुस्तकों की ज्ञान, सभ्यता, संस्कृति के संरक्षण व प्रचार प्रसार में अहम भूमिका: शीतल
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

Must Read

पुस्तकों की ज्ञान, सभ्यता, संस्कृति के संरक्षण व प्रचार प्रसार में अहम भूमिका: शीतल