सुप्रीम कोर्ट ने की सख्ती: चुनावी उम्मीदवारों के आपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी नहीं देने पर भाजपा समेत 8 दलों पर जुर्माना, अब उम्मीदवारों के चयन के 48 घंटे के भीतर बताना होगा

0
475
सुप्रीम कोर्ट ने की सख्ती: चुनावी उम्मीदवारों के आपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी नहीं देने पर भाजपा समेत 8 दलों पर जुर्माना, अब उम्मीदवारों के चयन के 48 घंटे के भीतर बताना होगा

सुप्रीम कोर्ट ने चुनावी उम्मीदवार के आपराधिक रिकॉर्ड का खुलासा नहीं करने पर सख्ती दिखाई है. इस मामले में मंगलवार को कोर्ट ने बीजेपी और कांग्रेस समेत 8 पार्टियों पर जुर्माना लगाया. इन सभी 8 दलों ने बिहार चुनाव के समय तय किए गए उम्मीदवारों के आपराधिक रिकॉर्ड को सार्वजनिक करने के आदेश का पालन नहीं किया.

सुप्रीम कोर्ट ने की सख्ती: चुनावी उम्मीदवारों के आपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी नहीं देने पर भाजपा समेत 8 दलों पर जुर्माना, अब उम्मीदवारों के चयन के 48 घंटे के भीतर बताना होगा

अदालत ने राजनीतिक दलों पर जुर्माना लगाने के साथ ही कहा कि सभी राजनीतिक दलों को अपने उम्मीदवारों के चयन के 48 घंटे के भीतर अपना आपराधिक रिकॉर्ड प्रकाशित करना होगा. सभी पार्टियों को अपने सभी उम्मीदवारों की जानकारी अपनी वेबसाइट पर देनी होगी और दो अखबारों में भी प्रकाशित करनी होगी. इसकी रिपोर्ट भी उम्मीदवार के चयन के 72 घंटे के भीतर चुनाव आयोग को देनी होगी।

बीजेपी-कांग्रेस पर एक-एक लाख का जुर्माना
सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को भाजपा, कांग्रेस, जदयू, राजद, लोजपा और भाकपा पर एक-एक लाख रुपये का जुर्माना लगाया। वहीं एनसीपी और सीपीएम पर पांच लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है. आदेश पारित करने से पहले कोर्ट ने कड़ी टिप्पणी करते हुए कहा कि बार-बार अपील करने के बावजूद राजनीतिक दलों ने नींद तोड़ने में दिलचस्पी नहीं दिखाई।

सुप्रीम कोर्ट ने की सख्ती: चुनावी उम्मीदवारों के आपराधिक रिकॉर्ड की जानकारी नहीं देने पर भाजपा समेत 8 दलों पर जुर्माना, अब उम्मीदवारों के चयन के 48 घंटे के भीतर बताना होगा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here