Home Breaking News bSP सांसद अतुल राय पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता की...

bSP सांसद अतुल राय पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता की मौत, सुप्रीम कोर्ट के सामने लगाई थी आग

bSP सांसद अतुल राय पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता की मौत, सुप्रीम कोर्ट के सामने लगाई थी आग

यूपी के घोसी (मऊ) BSP सांसद अतुल राय पर रेप का आरोप लगाने वाली पीड़िता की मंगलवार सुबह दिल्ली में मौत हो गई. पुलिस और प्रशासन पर उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए 16 अगस्त की सुबह रेप पीड़िता ने अपने एक साथी के साथ सुप्रीम कोर्ट के सामने आग लगा दी थी. शनिवार को उनके साथी की मौत हो गई। डॉक्टरों के मुताबिक पीड़िता को बचाने की काफी कोशिश की गई लेकिन सेप्टीसीमिया की वजह से उसकी हालत बिगड़ती चली गई। मंगलवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे उसकी मौत हो गई।Also Read:-साइबर ठगी इनामी योजनाओं के नाम पर : लखनऊ में केबीसी व ऑनलाइन शॉपिंग कंपनी की इनामी योजना के विजेता, मोबाइल पर संदेश व कूपन पोस्ट से घर-घर भेजे जा रहे

बलिया की रहने वाली पीड़िता ने दो साल पहले वाराणसी के लंका थाने में अतुल राय के खिलाफ लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान रेप का आरोप लगाते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई थी. पुलिस ने पहले गिरफ़्तारी के लिए अतुल राय पर शिकंजा तो वो अंडरग्राउंड हो गये थे और चुनाव जीतने के बाद उन्होंने सरेंडर कर दिया। तब से नैनी जेल में है।

सांसद अतुल राय ने भी पीड़िता पर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया और पीड़िता के साथ-साथ रेप मामले में गवाह गाजीपुर के सत्यम राय के खिलाफ मामला दर्ज कराया. इसी महीने दो अगस्त को दोनों की गिरफ्तारी का वारंट भी जारी किया गया था. इससे नाराज पीड़िता ने सत्यम राय के साथ फेसबुक लाइव कर बनारस के तत्कालीन एसएसपी अमित पाठक समेत कई अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाए और उसने मौत को गले लगाने की भी बात कही लेकिन पुलिस ने ध्यान नहीं दिया। इसी बीच 16 अगस्त को वह सुप्रीम कोर्ट पहुंचे और फेसबुक लाइव करते हुए पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी. दोनों को गंभीर हालत में राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां शनिवार को सत्यम की मौत हो गई। मंगलवार की सुबह पीड़िता की भी मौत हो गई।

आत्मदाह की घटना को लेकर हरकत में आई यूपी पुलिस!
सुप्रीम कोर्ट के सामने आत्मदाह की घटना के बाद हरकत में आई यूपी सरकार ने उसी दिन वाराणसी के तत्कालीन एसएसपी अमित पाठक को गाजियाबाद डीआईजी के पद से हटा दिया. वाराणसी कैंट के एसओ और मामले की जांच कर रहे निरीक्षक को भी निलंबित कर दिया गया है. रेप मामले की जांच के लिए एसआईटी भी बनाई गई है। इसमें डीजी और एडीजी स्तर के अधिकारियों को रखा गया है. उनकी जांच रिपोर्ट दो हफ्ते में आनी है।

समर्थकों के जरिए सांसद को धमकाने का आरोप
पीड़िता व उसका साथी सांसद अतुल राय, उनके समर्थकों पर सोशल मीडिया व अन्य माध्यमों से लगातार कई बार फेसबुक लाइव कर उन्हें धमकाने का आरोप लगाते रहे. पिछले साल नवंबर और दिसंबर में दोनों ने खुद पर मानसिक प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए कई बार वीडियो जारी कर जान से मारने की धमकी दी थी. यहां तक ​​लिखा कि उनके फोन को वाराणसी पुलिस ने ब्लॉक कर दिया है और उनकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है. रेप के आरोपी अतुल राय से मिलने के बाद पुलिसकर्मी उसे परेशान कर रहे हैं.

bSP सांसद अतुल राय पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता की मौत, सुप्रीम कोर्ट के सामने लगाई थी आग
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

Must Read

bSP सांसद अतुल राय पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता की मौत, सुप्रीम कोर्ट के सामने लगाई थी आग