Home Breaking News संपत्ति के लिए पिता की हत्या करने वाला हत्यारोपी पुत्र गिरफ्तार, दिल्ली...

संपत्ति के लिए पिता की हत्या करने वाला हत्यारोपी पुत्र गिरफ्तार, दिल्ली में गला घोटकर शव को मुजफ्फरनगर में लाकर फेंक दिया था

मुजफ्फरनगर। संपत्ति के लालच में दिल्ली में गला घोंटकर पिता की हत्या करने वाले कलयुगी हत्यारोपी पुत्र को पुलिस ने दबोच लिया है। आरोपी ने दिल्ली में हत्या कर शव को मुजफ्फरनगर में लाकर फेंक दिया था। पुलिस ने खुलासा करते हुए बताया कि प्रॉपर्टी के लिए हत्या की गई थी।

– Advertisement –

एसपी देहात अतुल श्रीवास्तव ने बताया कि थाना क्षेत्र भौराकलां स्थित ग्राम शिकारपुर के जंगल से 15 मार्च को एक शव मिला था, जिसकी शिनाख्त साहब सिंह निवासी मुकन्दपुर थाना भलस्वा डेयरी दिल्ली के रूप में हुई थी। उन्होंने बताया कि इस मामले में अज्ञात हत्यारोपियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई थी। उन्होंने बताया कि पुलिस ने मामले का खुलासा कर दिया। पुलिस ने इस मामले में आरोपी प्रमोद निवासी मुकन्दपुर थाना भलस्वा डेयरी, दिल्ली को गिरफ्तार करते हुए खुलासा किया कि वह मृतक का ही बेटा है।

पुलिस के अनुसार प्रारंभिक पूछताछ के दौरान पकड़े गए हत्यारोपी ने बताया कि वह कोई काम नहीं करता है। उसके पिता ने उसे 01 दूसरा घर दे रखा था। जिसमें वह अपनी दूसरी पत्नी के साथ रहता था। इससे पूर्व उसकी पहली पत्नी की मृत्यु हो चुकी है। बताया कि उसके पिता के घर 01 महिला खाना बनाने आती थी। तथा उसके पिता उसे पत्नी की तरह रखते थे।

बताया कि उसे डर था कि कहीं उसके पिता अपनी सारी संपत्ति उस महिला के नाम न कर दें। इसी कारण उसने अपने 02 साथियों लोविन्द्र कुमार उर्फ मोनू पुत्र नरेन्द्र निवासी नरेला दिल्ली एवं विक्की के साथ मिलकर अपने पिता की गला घोटकर हत्या कर दी। शव को गाड़ी में रखकर थाना क्षेत्र भौराकलां स्थित शिकारपुर गांव के जंगल में फेंक दिया था।

.

News Source: https://royalbulletin.in/the-son-of-the-murderer-who-killed-his-father-for-property/38206

संपत्ति के लिए पिता की हत्या करने वाला हत्यारोपी पुत्र गिरफ्तार, दिल्ली में गला घोटकर शव को मुजफ्फरनगर में लाकर फेंक दिया था
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera

Must Read

संपत्ति के लिए पिता की हत्या करने वाला हत्यारोपी पुत्र गिरफ्तार, दिल्ली में गला घोटकर शव को मुजफ्फरनगर में लाकर फेंक दिया था