Saturday, February 4, 2023
No menu items!

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी समेत इन शीर्ष नेताओं को अस्थायी जेल में रखा गया था नजरबंद

Must Read

एसपी ऑफिस के बाहर लगा ‘गर्व से कहो हम ब्राह्मण’ का पोस्टर, दो दिन पहले लिखा था ‘गर्व से कहो हम शूद्र हैं’

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में समाजवादी पार्टी (सपा) के कार्यालय के बाहर रामचरितमानस से जुड़ा एक पोस्टर लगाया गया...

वंदे भारत के मद्देनजर बीकानेर में बनेगी नई वाशिंग लाइन लाइन दोहरीकरण का भी होगा काम-डीपीआर भेजी

बीकानेर। बीकानेर के डीआरएम राजीव श्रीवास्तव ने बताया कि एलएचबी कोच को देखते हुए बीकानेर स्टेशन पर वर्तमान...
Avatar
Deepak Singhhttps://www.apnameerut.com
Deepak Singh is a resident of Meerut and working as a content writer for various agencies. He is proficient in Sports news, Bollywood news, and local city news.

श्रीराम मंदिर आंदोलन में कस्बा सरसावा भी सुर्खियों में रहा। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी और तत्कालीन विहिप अध्यक्ष विष्णु हरी डालमिया सहित 12 शीर्ष नेताओं को सरसावा में बनी अस्थायी जेल में नजरबंद रखा गया था। तब सरसावा की किसान सहकारी चीनी मिल के अतिथि गृह को अस्थायी जेल में परिवर्तित कर दिया गया था।

अतिथि गृह की देखभाल करने वाले सुमन सिंह बताते हैं कि सभी नेताओं को 1990 में 24 अक्तूबर से पांच नवंबर तक यहां रखा गया था। तब भाजपा, विहिप एवं बजरंग दल के आह्वान पर कारसेवक अयोध्या कूच करने के लिए तत्पर थे, लेकिन आंदोलन को रोकने के लिए तत्कालीन सरकार भी कड़े निर्णय ले रही थी। जिस पर कड़ी सतर्कता रही थी।

आज भी दर्ज है पूरा ब्योरा
अतिथि गृह में नजरबंद रहे नेताओं की फोटो लगी है, जिस पर उनका ब्योरा दर्ज है। उनमें पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी, विहिप के तत्कालीन अध्यक्ष विष्णु हरी डालमिया, विहिप उपाध्यक्ष बीपी तोषनौवाल, कोषाध्यक्ष पुल्ला रेड्डी, भानुपुरा पीठ के जगद्गुरु शंकराचार्य स्वामी दिव्यानंद तीर्थ, तत्कालीन सांसद गुमानमल, विहिप की अंतरराष्ट्रीय नेता अमेरिका निवासी अंजली बहन, रामनिवास ढंढारिया, आरएसएस के बसंत राय ओक, भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव केदारनाथ साहनी, तिलक राज गुप्ता, शिवकुमार और आरके गुप्ता आदि रहे थे।

- Advertisement -पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी समेत इन शीर्ष नेताओं को अस्थायी जेल में रखा गया था नजरबंद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी समेत इन शीर्ष नेताओं को अस्थायी जेल में रखा गया था नजरबंद
Latest News

एसपी ऑफिस के बाहर लगा ‘गर्व से कहो हम ब्राह्मण’ का पोस्टर, दो दिन पहले लिखा था ‘गर्व से कहो हम शूद्र हैं’

लखनऊ। राजधानी लखनऊ में समाजवादी पार्टी (सपा) के कार्यालय के बाहर रामचरितमानस से जुड़ा एक पोस्टर लगाया गया...

वंदे भारत के मद्देनजर बीकानेर में बनेगी नई वाशिंग लाइन लाइन दोहरीकरण का भी होगा काम-डीपीआर भेजी

बीकानेर। बीकानेर के डीआरएम राजीव श्रीवास्तव ने बताया कि एलएचबी कोच को देखते हुए बीकानेर स्टेशन पर वर्तमान में वाशिंग लाइन अपर्याप्त है....

यमुनानगर में महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं का प्रदर्शन

यमुनानगर। शहर यमुनानगर के नेहरू पार्क में शनिवार को कांग्रेस के युवा कार्यकर्ताओं ने महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ प्रदर्शन किया और सरकार...
- Advertisement -पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी समेत इन शीर्ष नेताओं को अस्थायी जेल में रखा गया था नजरबंद

More Articles Like This

- Advertisement -पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी समेत इन शीर्ष नेताओं को अस्थायी जेल में रखा गया था नजरबंद