Tuesday, February 7, 2023
No menu items!

उत्तर प्रदेश : गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में लगा स्पाई कैमरा, छात्राओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग को लेकर हाईकोर्ट पहुंचा मामला

Must Read

तुर्की-सीरिया भूकंप में मरने वालों की संख्या 3,500 से ऊपर पहुंच गई है

इस्तांबुल/दमिश्क। तुर्की-सीरिया भूकंप में मरने वालों की संख्या 3,500 से अधिक हो गई है। तुर्की में 2,370 से...

नोएडा पुलिस ने छत्तीसगढ़ पुलिस के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया है

ग्रेटर नोएडा। ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र के अलस्टोनियो अपार्टमेंट के फ्लैट से ऑनलाइन सट्टा लगाने वाले 9...
The Sabera Desk
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera
उत्तर प्रदेश : गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में लगा स्पाई कैमरा, छात्राओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग को लेकर हाईकोर्ट पहुंचा मामला

प्रयागराज के गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में स्पाई कैमरा लगाने का मामला हाईकोर्ट पहुंच गया है। इस मामले का जिक्र करते हुए स्वत: संज्ञान लेकर बच्चियों की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग की गई है।Read Also:-बिजनौर : गूगल-पे, फोन-पे और चेक से रिश्वत, तहसीलदार का ड्राइवर ओवरलोड ट्रकों से लिया करता था पैसा; पत्नी के खाते में ट्रांसफर हुआ करते थे पैसे, हुआ सस्पेंड

प्रयागराज के गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में स्पाई कैमरा लगाने का मामला हाईकोर्ट पहुंच गया है. इस मामले का न्यायालय में उल्लेख कर स्वत: संज्ञान लेते हुए बालिकाओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश निर्धारित करने की मांग की गई है। उधर, पुलिस ने मामले में गिरफ्तार आशीष खरे के मोबाइल, कंप्यूटर हार्ड डिस्क और डीवीआर को जांच के लिए फॉरेंसिक साइंस लेबोरेटरी भेज दिया है। मोबाइल और हार्ड डिस्क का बैकअप लेने से पता चल जाएगा कि मोबाइल में पिछली कोई रिकॉर्डिंग तो नहीं है। इसे ऐप से कहीं भी नहीं भेजा गया था। इसी आधार पर चर्चा आगे बढ़ेगी। गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में स्पाई कैमरा लगाने वाले फैयाज आशीष खरे को रविवार को पुलिस ने जेल भेज दिया।

कोर्ट में जस्टिस विवेक कुमार सिंह ने सपा नेता और आईवीआई छात्र संघ की पूर्व अध्यक्ष ऋचा सिंह का जिक्र ध्यान से सुना। विभिन्न आवेदनों की सुनवाई के दौरान ऋचा सिंह ने गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में शॉवर में मिले स्पाई कैमरे और उसके बाद के घटनाक्रम की ओर अदालत का ध्यान आकर्षित किया और इस पर स्वत: संज्ञान लेने का आग्रह किया। साथ ही घर से बाहर निकलने के बाद गर्ल्स हॉस्टल और अन्य शहरों में पीजी में रहने वाली छात्राओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश देने का अनुरोध किया।

उत्तर प्रदेश : गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में लगा स्पाई कैमरा, छात्राओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग को लेकर हाईकोर्ट पहुंचा मामला

67 लड़कियों को फ़ोन करने पर गिरफ्तार
आशीष खरे जैसी कई हस्तियां 1090 की मदद से पहले ही पकड़ी जा चुकी हैं। यह अलग बात है कि आशीष की तब तबीयत खराब हो गई जब उनके गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में एक स्पाई कैमरा मिला और उनकी तत्काल जमानत पर सवाल उठाए गए। मुंडेरा के विनोद श्रीवास्तव (विक्की) बच्चियों को प्रताड़ित करने वाले बड़े शोरगुल वाले थे। उसने 10 जिलों में 67 लड़कियों को प्रताड़ित किया था। उसके खिलाफ लखनऊ, कानपुर, प्रयागराज, बलिया, सीतापुर, उन्नाव, बाराबंकी, रायबरेली, सुल्तानपुर, एटा, इटावा, फर्रुखाबाद, बनारस, गोंडा, गोरखपुर, गाजीपुर, झांसी, जालौन, आजमगढ़ आदि में शिकायत दर्ज की गई थी।

यह एक तरह का मनोरोग है
दर्जनों युवतियों को फोन किया। उनके साथ अश्लील बातें करना। यह कोई साधारण बात नहीं। मनोवैज्ञानिकों की दृष्टि में यह मनोविकृति है। पुलिस को ऐसे लोगों की पहचान करने के बाद उनका इलाज भी करना चाहिए। पुलिस ने अब आशीष खरे को जेल भेज दिया है, जिसने महिला छात्रावास में स्पाई कैमरा लगा कर उसकी रिकॉर्डिंग देखी और लड़कियों को फोन कर अश्लील संदेश भेजे।

आत्मसंतुष्टि मिलने लगती है
मनोविज्ञान में, इस मनोविकृति को पैराफिलिया कहा जाता है। ऐसे लोग आम लोगों के बीच तो रहते हैं लेकिन उनकी पहचान आसान नहीं होती है। दरअसल, हर व्यक्ति में कुछ न कुछ इच्छाएं जागृत होती हैं। मनोविज्ञान की भाषा में इड, ईगो और सुपरिडो हैं। ईड का मतलब है कुछ करने के लिए प्रोत्साहित करना। जिस पर Superido का नियंत्रण होता है, वह कोई गलत काम नहीं कर सकता। कभी-कभी कुछ लोगों में इडौ सुपरिडो पर हावी हो जाता है। इसलिए वे बिना सोचे-समझे गलत काम करने लगते हैं। ऐसे लोगों की यौन इच्छाएं फोन कॉल या मैसेज करने से पूरी होती हैं। इसलिए वे ऐसा बार-बार करते हैं।

महिलाओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी करें
आईवीआई की पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष डॉ. ऋचा सिंह ने महिलाओं की सुरक्षा के लिए गाइडलाइन जारी करने की मांग की है। उन्होंने कहा कि अगर पुलिस महिला छात्रावास के बाथरूम में कैमरा लगाने वाले आशीष खरे के खिलाफ पहले ही कार्रवाई कर देती तो यह स्थिति नहीं होती। पीड़ितों में से एक ने फिर से मामला दर्ज कराया। अब आगे की कार्रवाई की जरूरत है और बननी चाहिए गर्ल्स हॉस्टल सेफ्टी गाइडलाइंस।

उत्तर प्रदेश : गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में लगा स्पाई कैमरा, छात्राओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग को लेकर हाईकोर्ट पहुंचा मामला

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

- Advertisement -उत्तर प्रदेश : गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में लगा स्पाई कैमरा, छात्राओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग को लेकर हाईकोर्ट पहुंचा मामला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -उत्तर प्रदेश : गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में लगा स्पाई कैमरा, छात्राओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग को लेकर हाईकोर्ट पहुंचा मामला
Latest News

तुर्की-सीरिया भूकंप में मरने वालों की संख्या 3,500 से ऊपर पहुंच गई है

इस्तांबुल/दमिश्क। तुर्की-सीरिया भूकंप में मरने वालों की संख्या 3,500 से अधिक हो गई है। तुर्की में 2,370 से अधिक और सीरिया में 1,444...

नोएडा पुलिस ने छत्तीसगढ़ पुलिस के खिलाफ अपहरण का मामला दर्ज किया है

ग्रेटर नोएडा। ग्रेटर नोएडा के सूरजपुर कोतवाली क्षेत्र के अलस्टोनियो अपार्टमेंट के फ्लैट से ऑनलाइन सट्टा लगाने वाले 9 लोगों को गिरफ्तार करने वाले...

पल पल रंग बदलते लोग – रॉयल बुलेटिन

खरबूजे को देखते ही रंग बदल जाता है। यह कहावत हम इंसानों पर लागू होती है। हम इंसान बहुत जल्दी एक दूसरे...
- Advertisement -उत्तर प्रदेश : गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में लगा स्पाई कैमरा, छात्राओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग को लेकर हाईकोर्ट पहुंचा मामला

More Articles Like This

- Advertisement -उत्तर प्रदेश : गर्ल्स हॉस्टल के बाथरूम में लगा स्पाई कैमरा, छात्राओं की सुरक्षा के लिए दिशा-निर्देश जारी करने की मांग को लेकर हाईकोर्ट पहुंचा मामला