नो स्कूल, नो एग्जाम, नो प्रमोशन : सहोदय

कोविड-19 के कारण हुए लाकडाउन में करीब एक साल बाद मंगलवार को मेरठ स्कूल सहोदय काम्प्लेक्स की आफलाइन बैठक बीडीएस इंटरनेशनल स्कूल में हुई। शहर के स्कूलों ने एक साथ निर्णय लिया है कि जिन अभिभावकों ने वर्तमान सत्र में एक भी माह की फीस नहीं दी है उन बच्चों की परीक्षा भी नहीं कराई जाएगी और न ही अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा। बच्चों को उसी कक्षा में दोबारा पढ़ना होगा। जो भी अभिभावक स्कूल से बच्चे की टीसी लेना चाहते हैं, उन्हें पिछली कक्षा की टीसी प्रदान की जाएगी।मेरठ स्कूल सहोदय काम्प्लेक्स के सचिव राहुल केसरवानी ने बताया कि अब भी स्कूलों में फीस की स्थिति सुधरी नहीं है। शहरी क्षेत्र के स्कूलों की स्थिति में फिर भी थोड़ा सुधार हुआ है, लेकिन ग्रामीण क्षेत्र के स्कूलों की स्थिति बेहद खराब है। इसीलिए सभी स्कूलों ने यह निर्णय सर्वसम्मति से लिया है, जिसका सख्ती से अनुपालन भी करेंगे। इसके अलावा स्कूलों ने कक्षा छह से आठवीं तक के बच्चों को भी बुलाने की तैयारियों पर चर्चा की। स्कूलों में वर्तमान सत्र 15 मार्च तक ही समाप्त कर दिया जाएगा। 20 मार्च के बाद से स्कूलों में सत्र 2021-22 की पढ़ाई शुरू होंगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here