Home Breaking News दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर डॉक्टर दंपत्ति पर हमला, देहरादून लौटते समय दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर कार में हुई खराबी, लुटेरों ने हमला कर की कार लूटने की कोशिश

दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर डॉक्टर दंपत्ति पर हमला, देहरादून लौटते समय दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर कार में हुई खराबी, लुटेरों ने हमला कर की कार लूटने की कोशिश

0
दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर डॉक्टर दंपत्ति पर हमला, देहरादून लौटते समय दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर कार में हुई खराबी, लुटेरों ने हमला कर की कार लूटने की कोशिश

दिल्ली-देहरादून हाईवे पर मालदीव से देहरादून लौट रहे डॉक्टर दंपती से कार लूटने की कोशिश की गई। बदमाशों ने पहले डॉक्टर दंपती पर लाठियों से हमला किया और उनकी जमकर पिटाई की। डॉक्टर दंपत्ति के हौसले नके आगे लुटेरे टिक नहीं पाए और बिना लूटे फरार हो गए। घबराए दंपति यहीं नहीं रुके और उन्होंने दिल्ली से हैदराबाद में अपने घर के लिए फ्लाइट पकड़ी। डॉक्टर ने गाजियाबाद पुलिस में ऑनलाइन शिकायत की तो पुलिस ने ट्वीट कर कहा कि वह थाने में आकर शिकायत दर्ज कराएं।Read Also:-अब 10 हजार का कटेंगा चालान और होगी जेल, अब भूलकर भी न करें ये गलती, परिवहन विभाग ने किया आगाह

रात 11.30 बजे भोजपुर के पास कार खराब हो गई
डॉ कुमार गौरव शर्मा कैलाश अस्पताल, देहरादून में हृदय रोग विशेषज्ञ हैं। उनकी पत्नी डॉ रितु शर्मा ओएनजीसी में एक वरिष्ठ भूविज्ञानी हैं। 24 अप्रैल को दोनों मालदीव घूमने गए थे। 1 मई को वह आईजीआई एयरपोर्ट दिल्ली पर उतरे और वहां से अपनी कार लेकर देहरादून के लिए निकल गए। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे पर गाजियाबाद जिले के भोजपुर थाना क्षेत्र में रात करीब 11.30 बजे उनकी कार खराब हो गई। इंजन से धुआं निकलने लगा। इस पर डॉ. गौरव शर्मा ने कार साइड में खड़ी कर दी और अपने परिचित मेरठ के डॉ. संजीव सिरोही को बुलाकर मदद मांगी।

हमलावरों ने कार पर भी डंडे बरसाए, इसमें वह क्षतिग्रस्त हो गई।

डॉक्टर दंपती लुटेरों से भिड़े, लूटरे भागे
डॉ. गौरव के मुताबिक, उन्हें खड़े होने में करीब 15 मिनट का समय लगा। तभी तीन युवक एक्सप्रेस-वे के किनारे खाई से ऊपर चढ़ते हुए आए। तीनों के हाथों में लाठी थी और मुंह पर गमछा लगा हुआ था। उन्होंने लूटने की नीयत से डॉक्टर दंपती पर हमला किया। एक आदमी कार की ड्राइविंग सीट पर बैठा था, जो शायद कार लूटने की कोशिश कर रहा था और दो आदमी दंपत्ति की पिटाई कर रहे थे। डॉ. गौरव ने कहा, वह एनसीसी कैडेट रह चुके हैं, इसलिए आत्मरक्षा के लिए सिखाई गई बातें उस समय काम आईं। उसने हमलावरों में से एक को जमीन पर पटक दिया। इसके बाद हमलावरों के हौसले पस्त हो गए और वे भाग गए।

हाथ की हड्डी टूटी, शरीर पर गुम चोट के निशान
डॉ. कुमार गौरव शर्मा ने बताया, उन्होंने तुरंत यूपी-112 पर कॉल किया। कई पुलिस वाहन मौके पर पहुंचे, लेकिन किसी भी पुलिसकर्मी के पास लाठी या टॉर्च नहीं थी। इसलिए वह हमलावरों को पकड़ने के लिए तलाशी नहीं ले सका। जब पुलिसकर्मियों ने थाने जाकर शिकायत लिखने को कहा तो डॉ. गौरव ने उसे पहले अपना इलाज कराने को कहा। इसके बाद डॉक्टर दंपत्ति मेरठ के सुभारती अस्पताल आ गए। इलाज कराते वक्त 2 मई की सुबह के 5 बज रहे थे। डॉक्टर रितु शर्मा के हाथ की हड्डी टूट गई। उसके पति को भी शरीर पर चोट के निशान मिले हैं। हमलावरों की लाठियों से कार का कुछ हिस्सा भी क्षतिग्रस्त हो गया।

हैदराबाद गए घबराए दंपती, पुलिस ने कहा- थाने में आकर शिकायत करें
डॉ. गौरव ने कहा, वह इस घटना के बाद से दहशत में हैं। 2 मई की सुबह, सुभारती अस्पताल, मेरठ से प्राथमिक उपचार प्राप्त करने के बाद, वह एक अन्य कार में दिल्ली आईजीआई हवाई अड्डे परआये और वहां से हैदराबाद में घर पहुंचने के लिए उड़ान भरी, जहां परिवार के अन्य सदस्य भी रहते हैं। फिलहाल पीड़ित डॉक्टर दंपत्ति हैदराबाद में मौजूद है। डॉ. गौरव ने 3 मई को सुबह 7.40 बजे गाजियाबाद पुलिस को ट्वीट कर ऑनलाइन शिकायत की और कार्रवाई करने को कहा। गाजियाबाद पुलिस ने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से सुबह 9:59 बजे जवाब दिया, ‘कृपया संबंधित पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करें’।

whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here