Tuesday, January 31, 2023
No menu items!

गर्मी का तांडव : ढीले और हल्के रंग के कॉटन के कपड़े और कैनवास के जूते पहनकर जा सकते हैं बच्चे स्कूल, जानिए केंद्र सरकार ने स्कूलों को और क्या निर्देश दिए हैं

Must Read
The Sabera Desk
The Sabera Deskhttps://www.thesabera.com
Verified writer at TheSabera
गर्मी का तांडव : ढीले और हल्के रंग के कॉटन के कपड़े और कैनवास के जूते पहनकर जा सकते हैं बच्चे स्कूल, जानिए केंद्र सरकार ने स्कूलों को और क्या निर्देश दिए हैं

भीषण गर्मी और लू के चलते कई राज्यों में गर्मी की छुट्टियां पहले से तय कर दी गई हैं। वहीं, कुछ राज्यों ने बढ़ते तापमान को देखते हुए स्कूलों के समय में बदलाव किया है। कई स्कूलों ने समय को सात घंटे से घटाकर चार से पांच घंटे कर दिया है।Read Also:-उत्तर प्रदेश: मुफ्त राशन वितरण की तारीख फिर बढ़ी, जानिए कब तक मिलेगा नमक, रिफाइंड गेहूं और चावल

इस बीच शिक्षा मंत्रालय यानी केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने गर्मियों को लेकर स्कूलों के लिए गाइडलाइन जारी की है।

केंद्र सरकार के शिक्षा मंत्रालय की गाइडलाइन के बारे में, जिसमें बताया गया है कि स्कूली बच्चों के खाने-पीने में यूनिफॉर्म और ट्रांसपोर्ट समेत क्या-क्या बदलाव किए जा सकते हैं, अन्य बातों के अलावा।

टाइम टेबल चेंज

  1. स्कूल का समय प्रातः 7 बजे शुरू हो सकता है और दोपहर से पहले समाप्त हो सकता है।
  2. गर्मी को देखते हुए प्रतिदिन स्कूल के घंटे कम किए जा सकते हैं।
  3. सुबह खेल और अन्य दूसरी आउटडोर एक्टिविटी की सलाह दी गई है।
  4. स्कूल असेंबली को कम समय में खत्म कर कक्षाएं शुरू करने का भी सुझाव है।

स्कूल परिवहन

  1. स्कूल बस और वैन में उतने ही छात्रों को जगह दी जा सकती है, जितनी बस में जगह हो।
  2. बस या स्कूल वैन को छांव में खड़ा करना होगा।
  3. बस में पीने के पानी और प्राथमिक उपचार किट की सुविधा होनी चाहिए।
  4. सार्वजनिक परिवहन से यात्रा करने वाले बच्चों के माता-पिता उन्हें लेने आएं।
  5. पैदल या साइकिल से आने वाले बच्चों को अपना सिर ढक कर रखना चाहिए।

Uniform कुछ इस तरह हो

  1. ढीले-ढाले और हल्के रंग के सूती कपड़े पहनने की अनुमति दी जा सकती है।
  2. गर्मी से बचने के लिए बच्चे पूरी बाजू की शर्ट पहन सकते हैं।
  3. स्कूल प्रबंधन को टाई को ढीले ढंग से बांधने दें।
  4. चमड़े के जूतों की जगह कैनवास के जूते पहनने दें।

भोजन के संबंध में माता-पिता और स्कूल को यह सलाह दी गई है

  1. गर्मियों में खाना जल्दी खराब हो जाता है, इसलिए बच्चों को टिफिन में ऐसा खाना देना चाहिए, जो जल्दी खराब न हो।
  2. बच्चों को टिफिन के समय हल्का भोजन करने की सलाह दी गई है।
  3. पीएम पोषण कार्यक्रम के तहत गर्म पका हुआ ताजा भोजन परोसा जाना चाहिए। इसके लिए जिम्मेदार शिक्षकों को परोसने से पहले भोजन की जांच करनी चाहिए।
  4. स्कूल कैंटीन को यह सुनिश्चित करना होगा कि बच्चों को ताजा और गर्म भोजन
  5. ही परोसा जाए।

आवासीय विद्यालय में यह सुविधा होनी चाहिए

  1. स्कूल में स्टाफ नर्स के पास इस मौसम से जुड़ी बीमारियों की दवा होनी चाहिए।
  2. डॉरमेट्री में खिड़कियों और दरवाजों पर पर्दे होने चाहिए।
  3. बच्चों को नींबू पानी, छाछ और फल ठीक से देना चाहिए।
  4. बच्चों को मसालेदार खाने की जगह हल्का खाना देना चाहिए।
  5. क्लास रूम, हॉस्टल और डाइनिंग हॉल में हमेशा पानी और बिजली उपलब्ध होनी चाहिए।
  6. शाम के समय खेल गतिविधियों का आयोजन करना चाहिए।

परीक्षा केंद्र पर मिलनी चाहिए ये सुविधाएं

  1. बच्चे अपनी पारदर्शी बोतल परीक्षा हॉल में ला सकते हैं।
  2. परीक्षा केंद्र पर भी पेयजल की सुविधा होनी चाहिए।
  3. परीक्षा हॉल में बच्चों की मांग पर उनकी सीटों पर पानी दिया जाए।
  4. आपात स्थिति के लिए सभी केंद्रों को स्थानीय चिकित्सा केंद्र से जोड़ा जाए।

प्राथमिक उपचार की सुविधा जरूरी

  1. स्कूल में हीट स्ट्रोक के इलाज के लिए ओआरएस घोल या पाउच-चीनी घोल की सुविधा होनी चाहिए।
  2. स्कूल स्टाफ को हीट स्ट्रोक की स्थिति में बच्चों को प्राथमिक उपचार की सुविधा प्रदान करने के लिए प्रशिक्षित किया जाना चाहिए।

कुछ राज्य जहां गर्मियों के कारण स्कूल के समय में बदलाव किया गया है

  1. हरियाणा: हरियाणा के सभी निजी और सरकारी स्कूलों के समय में बदलाव किया गया है। 4 मई से स्कूल का समय सुबह 8 बजे से दोपहर 2.30 बजे बदलकर सुबह 7 बजे से दोपहर 12 बजे कर दिया गया है।
  2. राजस्थान: जयपुर, अजमेर, सीकर, चुरू और जोधपुर जैसे कई जिलों में कक्षा 1 से 8 तक के स्कूलों का समय सुबह 7:30 बजे से 11 बजे कर दिया गया है।
  3. मध्य प्रदेश: गर्मी को देखते हुए अप्रैल महीने में ही स्कूलों का समय सुबह 7 बजे से दोपहर 12 बजे तक बदल दिया गया।
  4. बिहार: इधर भी अप्रैल महीने में ही स्कूलों का समय सुबह 6:30 बजे से 11:30 बजे कर दिया गया।

कुछ राज्य और गर्मी की छुट्टियों की तारीखें

  1. उत्तर प्रदेश: स्कूलों में गर्मी की छुट्टियां 21 मई से शुरू होकर 30 जून तक चलेंगी। इससे छात्रों को 41 दिन की छुट्टी मिलेगी।
  2. पंजाब : भीषण गर्मी को देखते हुए पंजाब सरकार ने 14 मई से सभी स्कूलों में गर्मी की छुट्टी घोषित कर दी है।
  3. पश्चिम बंगाल: पश्चिम बंगाल सरकार ने 2 मई से सभी स्कूलों में गर्मी की छुट्टियां शुरू कर दी हैं। यह गर्मी की छुट्टियां 15 जून तक जारी रहेंगी।
  4. महाराष्ट्र: महाराष्ट्र सरकार ने कक्षा 1-9 और कक्षा 11 के छात्रों के लिए 2 मई से 12 जून तक गर्मी की छुट्टियों की घोषणा की है। नया सत्र 13 जून से शुरू होगा।
  5. मध्य प्रदेश: यहां 1 मई से 14 जून तक गर्मी की छुट्टियां जारी रहेंगी।
whatsapp gif

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

- Advertisement -गर्मी का तांडव : ढीले और हल्के रंग के कॉटन के कपड़े और कैनवास के जूते पहनकर जा सकते हैं बच्चे स्कूल, जानिए केंद्र सरकार ने स्कूलों को और क्या निर्देश दिए हैं

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -गर्मी का तांडव : ढीले और हल्के रंग के कॉटन के कपड़े और कैनवास के जूते पहनकर जा सकते हैं बच्चे स्कूल, जानिए केंद्र सरकार ने स्कूलों को और क्या निर्देश दिए हैं
Latest News

पुलिस हिरासत में व्यवसायी की मौत के मामले में दो अधिकारियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज

सोनभद्र (उप्र)। पूर्व अनुविभागीय दंडाधिकारी (एसडीएम) राजेश कुमार सिंह और तहसीलदार बृजेश कुमार वर्मा के खिलाफ गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया...

Transport Corporation of India Ltd. Announces Results for Q3 and 9M Ending 31st December 2022

Company’s standalone revenue Growth: 16% Net profit growth on standalone basis: 22.9% Announced 2nd Interim Dividend of Rs. 2.50/- per share and payout of 125% on...

कनाडा में हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ और भारत विरोधी तस्वीरें बनाईं, भारत ने की कड़ी निंदा

नई दिल्ली। कनाडा में एक हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ और भारत विरोधी तस्वीरें बनाने की घटना सामने आई है। यह घटना कनाडा...
- Advertisement -गर्मी का तांडव : ढीले और हल्के रंग के कॉटन के कपड़े और कैनवास के जूते पहनकर जा सकते हैं बच्चे स्कूल, जानिए केंद्र सरकार ने स्कूलों को और क्या निर्देश दिए हैं

More Articles Like This

- Advertisement -गर्मी का तांडव : ढीले और हल्के रंग के कॉटन के कपड़े और कैनवास के जूते पहनकर जा सकते हैं बच्चे स्कूल, जानिए केंद्र सरकार ने स्कूलों को और क्या निर्देश दिए हैं