Home Breaking News कानपुर में जीका वायरस का जबरदस्त विस्फोट, 24 घंटे में 25 नए केस मिलने से मचा हड़कंप

कानपुर में जीका वायरस का जबरदस्त विस्फोट, 24 घंटे में 25 नए केस मिलने से मचा हड़कंप

0
कानपुर में जीका वायरस का जबरदस्त विस्फोट, 24 घंटे में 25 नए केस मिलने से मचा हड़कंप

कानपुर में जीका वायरस का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। पिछले 24 घंटे में 25 नए मामले सामने आए हैं। शहर में अब तक मिले जीका वायरस संक्रमितों की संख्या 36 हो गई है। लगातार बढ़ते मामलों ने प्रशासन की नींद उड़ा दी है। डीएम के आदेश पर सैंपल लेने और टेस्टिंग के काम में तेजी लाई गई है.Read Also:-मेरठ: शादी से कुछ घंटे पहले अपहरण का प्रयास, 20 युवकों संग पिस्टल लेकर आधी रात को पंहुचा मौसेरा भाई, कहा- शादी होगी तो मुझ से ही होगी

Shudh bharat

इससे पहले 11 जीका संक्रमित मिले थे। इनमें दो स्वास्थ्य कर्मियों के शामिल होने से स्वास्थ्य विभाग की चिंता बढ़ गई है। बताया जा रहा है कि ये स्वास्थ्यकर्मी कानपुर के सैकड़ों घरों में पहुंचे थे. माना जा रहा है कि जीका वायरस का जाल शहर में कई किलोमीटर तक फैल चुका है। अभी तक केवल परदेवनपुरवा ही संक्रमित हो रहा था लेकिन अब इसने पूरे चकेरी के साथ-साथ जीटी रोड और हाईवे के किनारे स्थित इलाकों को भी अपनी चपेट में ले लिया है।

मेरठ शहर में शादी, सगाई और अन्य आयोजनों में फैंसी पंडाल, फूलों की स्टेज, गद्दे, बिस्तर, क्रॉकरी व अन्य सामान के लिए संपर्क करें
गुप्ता टेंट हाउस एंड वेडिंग प्लानर : 82184346947397978781

प्रशासन के निर्देश पर दोनों स्वास्थ्य कर्मियों की ट्रेवल हिस्ट्री बनाई जा रही है. इनके संपर्क में आए लोगों के भी सैंपल लिए जाएंगे। वहीं स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम की टीमें प्रभावित इलाकों में लगातार फॉगिंग, सर्विलांस, सोर्स रिडक्शन और सैंपलिंग के काम में लगी हुई हैं. इसके तहत 209 घरों के स्रोत में कमी और 1554 घरों की निगरानी की गई। इस क्षेत्र में 5 टीम इंडोर फॉगिंग और 5 टीम आउटडोर फॉगिंग की जा रही है। टीम ने 1519 कैरेक्टर चेक किए और 5 कैरेक्टर क्लियर किए।

निगरानी दल ने 6393 व्यक्तियों से संपर्क किया। डीएम ने लोगों को जागरूक करते हुए कहा कि अपने घरों में साफ पानी जमा न होने दें और मच्छरदानी का प्रयोग करें. उन्होंने नगर आयुक्त को निर्देश देते हुए कहा कि क्षेत्र में साफ-सफाई का कार्य सुनिश्चित किया जाए और दवा का लगातार छिड़काव किया जाए. पॉजिटिव आने वाले मरीज की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग करते हुए सभी के सैंपल लिए जाएं। डीएम ने बताया कि मंगलवार को 451 सैंपल लिए गए हैं.

22 अक्टूबर को मिला पहला मरीज
जीका वायरस का पहला मरीज 22 अक्टूबर को कानपुर में मिला था। अब यह आंकड़ा 36 पहुंच गया है। मरीजों को एयरफोर्स अस्पताल और काशीराम में भर्ती कराया गया है। काशीराम अस्पताल में जीका मरीजों के लिए अलग वार्ड बनाया गया है। वार्ड में मरीजों को मच्छरदानी के अंदर रखा जा रहा है।

news shorts

प्रशासन अपील कर रहा है
जीका वायरस से निपटने के लिए प्रशासन लगातार लोगों से अपील कर रहा है कि वे अपने घरों में कभी भी पानी जमा न होने दें. स्वास्थ्य विभाग का कहना है कि इस मामले में घबराने की जरूरत नहीं है। सभी मरीजों की हालत ठीक है। स्वास्थ्य विभाग का दावा है कि आम जनता के सहयोग से जीका वायरस पर बहुत जल्द काबू पा लिया जाएगा।

advt.

देश दुनिया के साथ ही अपने शहर की ताजा खबरें अब पाएं अपने WHATSAPP पर, क्लिक करें। Khabreelal के Facebookपेज से जुड़ें, Twitter पर फॉलो करें। इसके साथ ही आप खबरीलाल को Google News पर भी फॉलो कर अपडेट प्राप्त कर सकते है। हमारे Telegram चैनल को ज्वाइन कर भी आप खबरें अपने मोबाइल में प्राप्त कर सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here